CAA का विरोध कर रहे इस नेता की उपचार के दौरान मौत, पार्टी में दौड़ी शोक की लहर

नई दिल्ली॥ हिंदुस्तान सरकार के द्वारा लागू किए गए नागरिकता कानून का देश के कई हिस्सों में विरोध प्रदर्शन जारी है। सीएए के विरोध में आत्मदाह करने वाले कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्ता रमेशचंद्र प्रजापति की उपचार के दौरान मौत हो गई। रविवार रात उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। उन्हें 90 प्रतिशत जली हालत में एमवाय हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था।

बीते शुक्रवार शाम रमेशचंद्र प्रजापति ने आत्मदाह करने का प्रयास किया था। रमेशचंद्र की आयु 72 वर्ष थी। प्रदर्शन के दौरान उन्होंने खुद पर केरोसिन डालकर आत्मदाह की कोशिश की थी। नाजुक हालत में उन्हें एमवाएएम हॉस्पिटल में एडमिट किया गया था। वो पूरी तरह से जल गए थे।

बीते शुक्रवार को गीता भवन चौराहे पर उन्होंने आत्मदाह करने की कोशिश की थी। तुकोगंज थाना पुलिस ने उनसे बयान लेने की कोशिश की लेकिन वो कुछ बोल नहीं पाए थे। सीएसपी सेंट्रल कोतवाली बीपीएस परिहार ने बताया था कि प्रजापति के पास से नागरिकता कानून के विरोध के करीब एक दर्जन पर्जे मिले हैं। हालांकि बेटे दीपक ने नागरिकता कानून के विरोध में पिता के द्वारा ये कदम उठाने से मना किया था।

पढ़िए-CAA को लेकर टूटा मलेशिया का सबर, हिंदुस्तान के खिलाफ कर दिया॰॰॰

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *