बाल्मीकि समाज की महिलाओं से ठगी का मामला, पीड़िताओं ने की जांच की मांग

जिले थाना परौर के गांव धर्मपुर गणेशपुर में मैला ढोने की प्रथा समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा भेजे गए अनुदान राशि से तथाकथित ठगों ने डिवाइस पर अंगूठा लगाकर महिलाओं से उनके खातों से ट्रांसफर कर लिया आठ आठ हजार रुपए।

राम निवास शर्मा मैथिल

शाहजहांपुर। जिले थाना परौर के गांव धर्मपुर गणेशपुर में मैला ढोने की प्रथा समाप्त करने के लिए केंद्र सरकार द्वारा भेजे गए अनुदान राशि से तथाकथित ठगों ने डिवाइस पर अंगूठा लगाकर महिलाओं से उनके खातों से ट्रांसफर कर लिया आठ आठ हजार रुपए।

fraud

इन महिलाओं के साथ सरगना मुरारीलाल भास्कर ने की ठगी

शाहजहांपुर जिले के थाना परौर क्षेत्र के गांव धर्मपुर गणेशपुर में बाल्मीकि समाज की 11 महिलाओं सुखरानी, सुनीता ,मीना, अनीता,रीता, पूनम,ओमवती,पूनम देवी,सीमा, विमला, व राम वेटी को मैला ढोने की प्रथा छोड़ने पर केंद्र सरकार द्वारा उनके खातों में 40 000,40000 का अनुदान भेजा गया था परंतु इस अनुदान की भनक लगते ही तथाकथित बाल्मीकि समाज के ठग शिवपाल बाल्मीकि रोजा, भोलानाथ ,गंगा प्रसाद, अजय प्रधान सभी सरकारी सफ़ाई कर्मचारी व सभी का गुर्गा व सरगना मुरारीलाल भास्कर ने यह कहकर डिवाइस पर अंगूठा लगवा कर 8000 ₹8000 अपने खाते में ट्रांसफर करवा ली कर लिए और उनके साथ ठगी कर ली ।

साथ ही उन्होंने यह भी कहा यह पैसा उन्होंने जुगाड़ करके भिजवाया था इसलिए मैंने अपना हिस्सा ले लिया है। इसकी किसी से शिकायत मत करना नही तो तुम्हें उल्टा फसा दूंगा ।आपको बता दें स्वच्छकेकार विमुक्त एवं पुनर्वास योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार मैला ढोने वाली महिलाओं के उत्थान के लिए उनको ₹40000 का अनुदान देती है।

वही पीड़ित महिलाओं ने थाना परौर को दिए प्रार्थना पत्र में हस्ताक्षर करने वालों में रामसुख रानी सुनीता मीना अनीता रीता पूनम ओमवती सीमा विमला आदि के नाम शामिल हैं।

1000 से अधिक महिलाओं के साथ हुई है ठगी

आपको बताते चलें कि इस सरगना ने पूरे जिले में 1000 से अधिक महिलाओं के साथ आई हुई अनुदान राशि ठगी कर ली है साथी इन ठगों ने बाल्मीकि समाज की महिलाओं को यह झांसा भी दिया है कि आगे आने वाली आवाज ऋण योजना आज में भी वह उनको लाभ दिलाएंगे मजे की बात यह है कई बार शिकायत करने के बाद भी कथित जालसाज एवं ठगों के साथ अभी तक कार्यवाही नहीं की गई है जबकि जिले के कर्मठ पुलिस अधीक्षक एस आनंद कई ठगी करने वाले गिरोह को जेल भेज चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *