CM योगी ने कमिश्नर-डीएम और एसएसपी को सुनाया फरमान, अब करना पड़ेगा ये काम

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों, पुलिस अधीक्षकों को अपने कार्यालय से दायित्वों का निर्वहन करने के निर्देश दिए हैं।

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों, पुलिस अधीक्षकों को अपने कार्यालय से दायित्वों का निर्वहन करने के निर्देश दिए हैं।
CM Yogi Adityanath
उन्होंने कहा है कि मण्डलायुक्त, जिलाधिकारी तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक-पुलिस अधीक्षक केवल सरकारी कार्यालय से ही शासकीय कार्यों का संचालन करें तथा फील्ड में जाकर लोगों से संवाद स्थापित करते हुए जन समस्याओं के प्रभावी निस्तारण की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री ऑफिस से लैण्डलाइन नम्बर पर फोन करके परखी जाएगी हकीकत

निर्देशों के अनुपालन की पुष्टि मुख्य सचिव कार्यालय तथा मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा इन अधिकारियों के कार्यालय के लैण्डलाइन नम्बर पर फोन करके की जाएगी।
मुख्यमंत्री शनिवार को यहां अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में विभिन्न विभागों के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों के प्रति पूरी तरह समर्पित होकर धान क्रय तथा गन्ना क्रय किया जाए। डिप्टी आरएमओ धान खरीद के कार्य तथा जिला गन्ना अधिकारी गन्ना क्रय की नियमित माॅनिटरिंग करें।
मुख्यमंत्री ने कहा कि शासन के निर्देशों के क्रम में नोडल अधिकारियों द्वारा समस्त जनपदों का भ्रमण किया गया। जनपद भ्रमण के दौरान इन अधिकारियों ने जिले में संचालित विभिन्न विकास एवं जनकल्याणकारी कार्यों की समीक्षा की तथा अपनी आख्या शासन को प्रस्तुत कर दी है। उन्होंने निर्देश दिए कि नोडल अधिकारियों की रिपोर्ट का अध्ययन करते हुए जनपदों की व्यवस्था को बेहतर करने के लिए फील्ड के अधिकारियों को आवश्यक मार्गदर्शन प्रदान किया जाए।

पशुपालकों को लाभान्वित किया जाए

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने में डेयरी की महत्वपूर्ण भूमिका है। डेयरी सेक्टर के विस्तार के लिए राजस्व ग्रामों में अधिक से अधिक दुग्ध समितियां गठित करते हुए पशुपालकों को लाभान्वित किया जाए। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों को अपने-अपने जनपद के गो-आश्रय स्थलों की व्यवस्थाओं को बेहतर बनाए रखने के निर्देश दिए हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि तथा किसान कल्याण के उद्देश्य से प्रदेश सरकार द्वारा किसान कल्याण मिशन प्रारम्भ किया जा रहा है। किसान कल्याण मिशन का आयोजन आगामी 06 जनवरी से शुरू होगा। इसके अन्तर्गत प्रत्येक विकास खण्ड पर किसानों के हित में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
उन्होंने कहा कि 06 जनवरी, 2021 को वे स्वयं किसान कल्याण मिशन के अन्तर्गत आयोजित होने वाले कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे। उन्होंने किसान कल्याण मिशन का प्रभावी संचालन सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा कि इस आयोजन में जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जाए।
मुख्यमंत्री ने अवस्थापना परियोजनाओं के निर्माण कार्यों पर पूरा ध्यान देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि इन परियोजनाओं में इस्तेमाल की जा रही सामग्री उच्च गुणवत्ता की हो। उन्होंने एक्सप्रेस-वे, हाई-वे, मेडिकल काॅलेज आदि के निर्माण से जुड़ी परियोजनाओं में उपयोग की जा रही सामग्री की जांच करने के निर्देश दिए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *