पाकिस्तान से बुरा है अफगानिस्तान का हाल, 10 लाख बच्चे होंगे इस जानलेवा बीमारी का शिकार

यूनिसेफ ने एक बयान में कहा कि खसरा के गंभीर असर और तीव्र पानी वाले दस्त ने स्थिति को बढ़ा दिया है

अफगानिस्तान में मौजूदा हालात बहुत खराब है। यहां तालिबान सत्ता पर विराजमान है। तो वहीं यहां पर लोगों के खाने के लाले पड़े हुए हैं। आलम ये है कि यदि जल्द ही मदद न मिली तो भुखमरी, अकाल, गंभीर बीमारियों जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

starvation

जानकारी के मुताबिक हफ्ते अफगानिस्तान का दौरा करने वाले यूनिसेफ के डिप्टी एक्टिव डायरेक्टर उमर आब्दी का कहना है देश में तकरीबन दस लाख बच्चों के गंभीर कुपोषण से पीड़ित होने  की आशंका है।

आपको बता दें कि अफगानिस्तान की यात्रा खत्म करने के बाद यूनिसेफ के आला अफसर ने उमर आब्दी ने वार्निंग दी कि जब तक तत्काल मदद प्रदान नहीं की जाती, कम से कम 10 लाख अफगानी बच्चे बहुत ज्यादा कुपोषण का शिकार हो सकते हैं और यहां तक ​​​​कि उन बच्चों को मृत्यु का सामना करना पड़ सकता हैं।

इस मामले में यूनिसेफ ने एक बयान में कहा कि खसरा के गंभीर असर और तीव्र पानी वाले दस्त ने स्थिति को बढ़ा दिया है। इस स्थिति ने बच्चों को जोखिम में डाल दिया है। उमर ने काबुल में इंदिरा गांधी बाल अस्पताल के अपने दौरे के दौरान गंभीर कुपोषण से पीड़ित दर्जनों बच्चों से भेंट की, जो एक जानलेवा रोग (life-threatening illness) जूझ रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *