लखनऊ RTO को कोरोना का खौफ, स्थाई डीएल के टाइम स्लॉट फुल, आवेदक नहीं आ रहे कार्यालय

स्लॉट तो फुल है, किंतु कोराना के खौफ से स्थाई डीएल बनवाने सभी आवेदक RTO कार्यालय नहीं आ रहे हैं।

लखनऊ॥ राजधानी लखनऊ के ट्रांसपोर्ट नगर स्थित RTO कार्यालय में स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) बनवाने के टाइम स्लॉट तो फुल हैं, किंतु वायरस के भय से सभी आवेदक डीएल बनवाने नहीं पहुंच रहे हैं।

dl

सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी (ARTO) प्रशासन अखिलेश कुमार द्विवेदी ने मंगलवार को बताया कि लखनऊ RTO में 180 लोगों को रोजाना स्थाई डीएल बनवाने का टाइम स्लॉट दिया गया है। स्लॉट तो फुल है, किंतु कोराना के खौफ से स्थाई डीएल बनवाने सभी आवेदक RTO कार्यालय नहीं आ रहे हैं।

उन्होंने बताया कि कोरोना से बचाव के लिए प्रतिदिन पूरा कार्यालय सैनिटाइज कराया जा रहा है। फिर भी मात्र 30 से 40 आवेदक ही स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने पहुंच रहे हैं। RTO कार्यालय में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के लिए सुरक्षा गार्ड तैनात किए गए हैं। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है।

एRTO प्रशासन ने बताया कि जो आवेदक कोरोना के खौफ से अपने टाइम स्लॉट पर स्थाई ड्राइविंग लाइसेंस की औपचारिकता पूरी करने कार्यालय नहीं आ रहे हैं। उन्हें बाद में दोबारा ऑनलाइन टाइम स्लॉट लेकर आना होगा। इसके लिए आवेदकों को अलग से कोई फीस नहीं देनी होगी।

कोरोना काल के दो महीनों में लखनऊ में आए 15 हजार लर्निंग डीएल के आवेदन

राजधानी लखनऊ में कोरोना काल के दो महीनों में करीब 15 हजार लर्निंग ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) के आवेदन आए हैं। इनमें गत 23 अप्रैल से 14 जून तक के आवेदकों के टाइम स्लॉट रद्द कर दिए गए हैं। ऐसे आवेदकों को 15 जून के बाद दोबारा से तारीख लेकर आना होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *