चक्रवाती तूफान लिंगलिंग पर पूरी दुनिया की टिकी नजर, अगले कुछ दिनों तक मचाएगा तबाही, इन इलाकों में पड़ेगा असर

नई दिल्ली ।। शक्तिशाली तूफान लिंगलिंग शनिवार को कोरियाई प्रायद्वीप के पास दस्तक दी है। तेज हवाओं के झोंके और भयंकर बारिश को देखते हुए अलर्ट जारी कर दिया है। कोरियाई मौसम विभाग के मुताबिक, प्रशांत मौसम का 13वां तूफान लिंगलिंग, सुबह 11 बजे तक साउथ कोरियाई तटीय शहर बोर्योग से लगभग 120 किलोमीटर पश्चिम में था। ये क्षेत्र सियोल से करीबन 140 किलोमीटर दूर है।

रिपोर्ट में बताया गया कि तीव्र ‘शक्तिशाली’ तूफान की हवा की रफ्तार लगभग 140 किलोमीटर प्रतिघंटा है। वह 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उत्तर की तरफ बढ़ रहा है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि ये तूफान 200 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से भी अधिक गति के कारण ‘रिकॉर्ड’ बना सकता है। इस तूफान के चलते यलो सागर के कुछ द्वीपों में कार और नावों को भी हवा में उछालने का सक्षम है।

पढ़िए-हिंदुस्तान ने पाकिस्तान को अब तक के सबसे तीखे अंदाज में दी नसीहत, कहा- बंदूक तानकर…

मौसम विभाग के मुताबिक, तूफान देर शनिवार को साउथ कोरिया के पश्चिमी तट से उत्तरी कोरियाई प्रांत के दक्षिणी ह्वांगहे में दस्तक दे सकता है। वहीं, उत्तर कोरिया की मीडिया ने बताया कि उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन ने तूफान के प्रभावों से निपटने के लिए सेना के साथ शुक्रवार को एक आपातकालीन बैठक की अध्यक्षता की। कहा जा रहा है कि ऐसा माना जाता है कि तूफान बोलवेन के बाद से तूफान लिंगलिंग प्रायद्वीप पर दस्तक देने वाला सबसे खतरनाक तूफान है। आपको बता दें कि 2012 में बोलवेन तूफान के कारण साउथ कोरिया में 15 लोगों की जान गई थी।

फोटो- फाइल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *