प्रशासन और मंदिर समिति की बैठक में लिया गया निर्णय, यहां शारदीय नवरात्रि में श्रद्धालु कर सकेंगे मां के दर्शन

शारदीय नवरात्रि में श्रद्धालु मां पूर्णागिरि के दर्शन कर सकेंगे। बस भक्तों को कोरोना के नियमों का पालन करना होगा। प्रशासन और मंदिर समिति की बैठक में निर्णय लिया गया कि श्रद्धालुओं को सीमिति संख्या में मंदिर भेजा जाएगा।

टनकपुर (चंपावत), 10 अक्टूबर यूपी किरण। शारदीय नवरात्रि में श्रद्धालु मां पूर्णागिरि के दर्शन कर सकेंगे। बस भक्तों को कोरोना के नियमों का पालन करना होगा। प्रशासन और मंदिर समिति की बैठक में निर्णय लिया गया कि श्रद्धालुओं को सीमिति संख्या में मंदिर भेजा जाएगा। इससे पहले उनका एंटीजन टेस्ट भी होगा।
शनिवार को जिलाधिकारी एसएन पांडेय, एसपी लोकेश्वर सिंह, सीएमओ डॉ.आरपी खंडूरी समेत पूरा प्रशासनिक अमला टनकपुर पहुंचा। इसके बाद प्रशासनिक अधिकारियों व मंदिर समिति के पदाधिकारियों की बैठक हुई। बैठक बनबसा के सिंचाई विभाग गेस्ट हाउस में हुई।
मंदिर समिति के अध्यक्ष पंडित भुवन चंद्र पांडेय ने बताया है कि बैठक में तय हुआ कि शारदीय नवरात्रि में श्रद्धालु मां पूर्णागिरि के दर्शन कर सकेंगे। श्रद्धालुओं को कोरोना के सभी नियमों का पालन करना होगा। प्रशासन के साथ ही मंदिर समिति इसका विशेष ध्यान रखेगी। तय हुआ कि जगबूढ़ा पुल और ठूलीगाड़ में श्रद्धालुओं का कोरोना एंटीजन टेस्ट होगा। तीर्थ यात्रियों को उत्तराखंड के माई सिटी पोर्टल में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। श्रद्धालु एक बार मंदिर परिसर में समिति संख्या में जा सकेंगे।
उन्होंने बताया कि ककराली गेट, बूम, ठूलीगाड़ व भैरव मंदिर से बारी बारी से निकासी होगा। पुजारियों, दुकानदारों को भी मास्क पहनने के साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग आदि नियमों का कड़ाई से पालन करना होगा। पूरे इलाके में पुलिस की नजर बनी रहेगी। बैठक में एडीएम त्रिलोक सिंह मर्तोलिया, एसडीएम हिमांशु कफल्टिया, सीओ बिपिन चंद्र पंत, तहसीलदार खुशबू पांडेय आदि मौजूद थे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *