दिल्ली और बेंगलोर के बीच आज करो या मरो का मुकाबला, जानिए कौन किस पर पडेगा भारी

यह मैच एक तरह से वर्चुअल क्वार्टर-फाइनल की तरह होगा, जहां जो टीम जीतेगी वो प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर जाएगी। हालांकि हारने वाली टीम बाहर नहीं होगी लेकिन उसके लिए दूसरी टीमों का प्रदर्शन काफी मायने रखेगा।

अबू धाबी। दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर की टीमें इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 13वें सीजन में आज यहां शेख जाएद स्टेडियम में भिड़ेंगी। यह मैच एक तरह से वर्चुअल क्वार्टर-फाइनल की तरह होगा, जहां जो टीम जीतेगी वो प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर जाएगी। हालांकि हारने वाली टीम बाहर नहीं होगी लेकिन उसके लिए दूसरी टीमों का प्रदर्शन काफी मायने रखेगा।

Delhi and Bangalore

दोनों टीमों के लिए इस समय स्थिति एक जैसी है। अंकतालिका में बेंगलोर 13 मैचों में सात जीत, छह हार के साथ 14 अंक लेकर दूसरे स्थान पर है। जबकि दिल्ली नेट रन रेट के कारण इन्हीं आंकड़े के साथ तीसरे स्थान पर स्थित है।

दिल्ली ने सीजन की शानदार शुरुआत की थी, लेकिन पिछले चार मैचों के हार के कारण प्लेऑफ में जाने में उसे इतनी देर हो गई।

उसे अब बेंगलोर को हरा कर दूसरा स्थान हासिल करना होगा। अगर बेंगलोर, दिल्ली को हरा देती है फिर दिल्ली को उम्मीद करनी होगी की चेन्नई सुपर किंग्स, किंग्स इलेवन पंजाब को हरा दे और मुंबई इंडियंस, सनराजर्स हैदराबाद को मात दे। ऐसे में पंजाब और हैदराबाद 12 अंकों पर ही रहेंगे।

दूसरे के कंधों पर किसका भविष्य निर्भर होता

यही स्थिति बेंगलोर के साथ भी कायम है। दिल्ली के खिलाफ अगर उसे हार मिलती है तो वह भी वही उम्मीद करेगी जो दिल्ली हार की स्थिति में करेगी। दोनों टीमें हालांकि इस मैच में हार बाकी टीमों के भरोसे अपने भविष्य के फैसले को नहीं छोड़ेंगी और पूरा प्रयास करेंगी कि उन्हें जीत मिले।

अब देखना होगा कि इस कश्मकश भरी जंग में जीत किस टीम के हिस्से आती है और दूसरे के कंधों पर किसका भविष्य निर्भर होता है।

दोनों टीमों की अगर बात की जाए तो अपने पिछले मैचों में यह हार कर आ रही है। मुंबई इंडियंस ने दिल्ली को हराया था और हैदराबाद ने बेंगलोर को।

दिल्ली के लिए चिंता

दिल्ली के लिए चिंता यह है कि पिछले कुछ मैचों से उसकी बल्लेबाजी नहीं चल रही है, जिसके कारण टीम के गेंदबाजों को बचाने के लिए अच्छा स्कोर नहीं मिल पा रहा है। अपने आखिरी मैच में तो मुंबई के खिलाफ दिल्ली 20 ओवरों में सिर्फ 110 रन ही बना पाई थी।

यह टीम के लिए एक चिंता का सबब है। शिखर धवन का फॉर्म खो गया है। पृथ्वी शॉ का बल्ला भी नहीं चल रहा है। कप्तान श्रेयस अय्यर और ऋषभ पंत भी रन नहीं बना पाए हैं और मार्कस स्टोयनिस, शिमरन हेटमायेर भी निचले क्रम में अपना तूफानी अंदाज नहीं दिखा पाए हैं।

यह सभी चीजें दिल्ली के लिए परेशानी हैं जो वह बेंगलोर के खिलाफ दूर करना चाहेगी, नहीं तो उसका पहला आईपीएल खिताब जीतने का सपना एक बार फिर अधूरा रह सकता है।

बेंगलोर की भी यही कहानी है। अपने पहले खिताब की कोशिश में लगी बेंगलोर अपने पिछले मैच में हैदराबाद के खिलाफ 120 रन ही बना पाई थी। उस मैच में एक बार फिर विराट कोहली और अब्राहम डिविलियर्स के ऊपर निर्भरता देखी गई थी और इन दोनों के आउट होते ही टीम बिखर गई थी।

इस सीजन हालांकि देवदत्त पडिकल ने सलामी बल्लेबाज की जिम्मेदारी को अच्छे से निभाया है और निचले क्रम में क्रिस मौरिस ने भी अच्छे हाथ दिखाए हैं। इन दोनों को भी इस अहम मैच में रन बनाने की जरूरत होगी।

दोनों टीमों की गेंदबाजी की तुलना की जाए तो दिल्ली हावी है। उसके पास कैगिसो रबादा और एनरिक नॉर्खिया जैसे नाम हैं जो लगातार टीम के लिए बेहतर कर रहे रहे हैं। रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल की जोड़ी भी बेंगलोर के लिए खतरनाक साबित हो सकती है।

वहीं बेंगलोर की गेंदबाजी भी अच्छी है। मौरिस, नवदीप सैनी और इसुरु उदाना ने लगातार अच्छा प्र्दशन कर टीम को कई अहम मैचों में जीत दिलाई है। इन तीनों के लिए एक अच्छी बात यह है कि दिल्ली के बल्लेबाजों का आत्मविश्वास इस समय कमजोर होगा जिस पर यह वार कर सकते हैं।

बेंगलोर के लिए अहम हथियार हैं लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल जो अपनी फिरकी के जाल में किसी को भी फंसा सकते हैं।

टीमें (सम्भावित) :

दिल्ली कैपिटल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), अजिंक्य रहाणे, एलेक्स कैरी, पृथ्वी शॉ, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिखर धवन, शिमरन हेटमायेर, अक्षर पटेल, ललित यादव, मार्कस स्टोयनिस, कीमो पॉल, आवेश खान, हर्षल पटेल, कैगिसो रबादा, मोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, संदीप लामिछाने, एनरिक नॉर्खिया, तुषार देशपांडे।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर : विराट कोहली (कप्तान), एरॉन फिंच, देवदत्त पडिकल, एबी डिविलियर्स, जोश फिलिपे, वॉशिंगटन सुंदर, शिवम दुबे, नवदीप सैनी, उमेश यादव, डेल स्टेन, युजवेंद्र चहल, मोइन अली, पवन देशपांडे, गुरकीरत सिंह मान, मोहम्मद सिराज, क्रिस मौरिस, पवन नेगी, पार्थिव पटेल, शहबाज अहमद, इसुरु उदाना, एडम जाम्पा, केन रिचर्डसन।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *