Monsoon में अपनी सेहत का इस तरह रखें ख्याल, भोजन में शामिल करें…

मॉनसून (Monsoon) का इंतजार लोगो को बहुत बेशबरी से होता हैं लेकिन मॉनसून अपने साथ कई बीमारी लता हैं और इस मौसम में अक्सर कई प्रकार

मॉनसून (Monsoon) का इंतजार लोगो को बहुत बेशबरी से होता हैं लेकिन मॉनसून अपने साथ कई बीमारी लता हैं और इस मौसम में अक्सर कई प्रकार की बीमारियों के संक्रमण का खतरा बढ़ जाता हैं। इसके साथ मच्छरों द्वारा फैलने वाले रोग भी अत्यधिक संक्रमित हो जाते हैं।Diet

विशेषज्ञों का मानना है कि लोगों को बारिश के सीजन (Monsoon) में लोगों को अपने दैनिक जीवन में कुछ बदलाव करने चाहिए, जिससे उनके‌ शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सके। रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए नियमित और सेहतमंद भोजन ग्रहण करना जरूरी हैं।

कई शोध के अनुसार, हमारे खान-पान का असर हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर पड़ता है। मानसून (Monsoon) के सीजन में अपने खानपान और रोजाना एक्सरसाइज पर विशेष ध्यान देना चाहिए।

मॉनसून (Monsoon) के दौरान आपका आहार कैसा होना चाहिए-

साफ पानी पिएं (Monsoon)-

कई लोग अपने घरों में बोरवेल या नल का पानी पीते हैं जो मॉनसून सीजन (Monsoon) में उनके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। दरअसल बारिश के मौसम में बोरवेल या नल के पानी में कई तरह के रोगाणु पनप सकते हैं। इन रोगाणु से डायरिया, पेट में इंफेक्शन और टाइफाइड हो सकता है। इसीलिए बारिश के मौसम में साफ पानी पीना चाहिए।

फास्ट फूड, ऑइली फूड से दूरी-

बारिश के मौसम (Monsoon) में हर एक इंसान को चटपटी और ऑयली चीजें खाना पसंद होता है। मगर इन चीजों का सेवन करने से आपको कई तरह के पेट संबंधित रोग हो सकते हैं। जानकार बताते हैं कि मॉनसून सीजन में हमारा मेटाबॉलिज्म कमजोर पड़ जाता है जिसके वजह से कई रोग हो सकते हैं।

पत्तेदार सब्जी (Monsoon)-

यह तो हम सब ने सुना है कि हरी सब्जियां हमारे सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती हैं। मगर, विशेषज्ञों का मानना है कि बारिश के मौसम (Monsoon) में हमें इनसे परहेज करना चाहिए। ऐसा इसीलिए क्योंकि बारिश के मौसम में मॉइश्चर और उमस के वजह से हरी सब्जियों के पत्तियों पर कई रोगाणु पनप सकते हैं। इसलिए इस मौसम में पत्ता गोभी, फूल गोभी और पालक जैसी सब्जियों का सेवन नहीं करना चाहिए।

पेय पदार्थ और मसाला चाय-

बारिश के मौसम में उमस के वजह से शरीर के अंदर फ्लूइड खत्म हो जाता है। ऐसे में शरीर के अंदर फ्लूइड की मात्रा को नियंत्रित रखने के लिए हमें पानी पीना चाहिए। इसके साथ आप काढ़ा और विशेष मसाला चाय पी सकते हैं जिसके अंदर अदरक, इलायची और तुलसी जैसे लाभदायक मसाले मौजूद हों।

फ्रेश फूड का करें सेवन (Monsoon)-

सलाद खाना हमारे सेहत के लिए लाभदायक है मगर गर्मियों के मौसम में हमें इससे परहेज करना चाहिए। जानकारों का मानना है कि सलाद में कुछ सब्जियों के अंदर रोगाणु मौजूद हो सकते हैं। इसीलिए हमें पका हुआ खाना बारिश के मौसम (Monsoon) में खाना चाहिए। इस मौसम में सीफूड को भी परहेज करना चाहिए।

मसालों के अंदर एंटीसेप्टिक और एंटीइन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टी होती है। इसलिए अपने खाने में हल्दी, काली मिर्च और लौंग जैसे मसालों का उपयोग करना आपके स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होगा। यह आपके शरीर को इंफेक्शन से बचाएगा और इम्यूनिटी बढ़ाएगा।

Ladyfinger Benefits: सेवन से दूर होता है डायबिटीज का ख़तरा, जानें क्या हैं इसका राज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *