उत्तर प्रदेश के इन इलाकों में शुरू हुआ बिजली संकट, हो जाएं तैयार नहीं तो होगी परेशानी

राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में 5-6 घंटों की बिजली कटौती शुरू हो चुकी है,

उत्तर प्रदेश॥ कोयले की किल्लत देश में नहीं है ऐसा मोदी सरकार ने कह दिया है, किंतु कई प्रदेशों में बत्ती गुल हो रही है। भारत के सबसे बड़े राज्य यूपी में भी स्थिति कुछ ठीक नहीं हैं। संभावनाएं ये जताई जा रही है कि दिपावली से बिल्कुल पहले उत्तर प्रदेश सहित भारत के करोड़ों लोगों की अंधेरे में दिवाली मनने की आशंका है।

यूपी के स्थिति को इस बात से समझा जा सकता है कि कोयले की सप्लाई के लिए उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी को प्रधानमंत्री को लेटर भी लिखना पड़ा है। सीएम योगी ने कोयले की आपूर्ति सामान्य कराने और प्रदेश को अतिरिक्त बिजली उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है।

इन जगहों पर 5-6 घंटे रहेगी बिजली गुल

राज्य के ग्रामीण क्षेत्रों में 5-6 घंटों की बिजली कटौती शुरू हो चुकी है, जबकि शहरी जगहों में अघोषित बिजली कटौती हो रही है। कारण है राज्य में बिजली की मांड और सप्लाई में बड़ा अंतर। हालांकि उत्तर प्रदेश सीएम ने कहा है कि रात्रि में बिजली नहीं कटेगी। उन्होंने आदेश दिया कि शाम 6 बजे से सुबह 7 बजे तक बिजली कटौती नहीं होगी। ये निर्देश ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों के लिए दिया गया है।

2 हजार मेगावाट बिजली मिल रही कम

यूपी जहां 17 हज़ार मेगावाट के आसपास बत्ती की आवश्यकता हैं वहीं 15 हज़ार मेगावाट के आसपास मिल रही है। यानी आवश्यकता से करीबन दो हज़ार मेगावाट कम। एक-दो दिन पहले तक तो ये आलम हो गया था कि ग्रामीण क्षेत्रों में जहां 18 घंटे बिजली की आपूर्ति होनी चाहिये वहां 12 से 13 घंटे के मध्य ही हो पा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *