फेसबुक पर एक फ्रेंड रिक्वेस्ट डाल सकती है मुसीबत में, रहें सावधान

सावधान हो जाइए! आपके साथ भी व्हाट्सएप के माध्यम से साइबर ठगी हो सकती है। चैटिंग के दौरान अश्लील बातें गंभीर संकट में डाल सकती हैं।

अजब-गजब॥ वर्तमान में व्हाट्सएप (Whatsapp) और मैसेन्जर के जरिए साइबर क्राइम को अन्जाम दिया जा रहा है। साइबर अपराध में लड़का नहीं बल्की एक लड़की आपको ठगी का शिकार बनाएगी। आपको किसी अनजान लड़की द्वारा फेसबुक (FACEBOOK) पर आपको फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा जायेगा या मैसेंजर पर हाय का मेसेज आयेगा, जो दिखने में बहुत ही सुन्दर होगी।

Crime, fasebook, call

फिर आप द्वारा फ्रेंड रिक्वेस्ट को स्वीकार कर उससे मैसेंजर के जरिये वार्ता की जायेगी। धीरे-धीरे आप उस लड़की के तरफ खिंचते चले जायेंगे। व्हाट्सएप नंबर का आदान-प्रदान होगा। फिर व्हाट्सएप पर वीडियो कालिंग पर अश्लील बातें होंगी। वीडियो कॉलिंग में लड़की न्यूड (NUDE) हो जायेगी और आपको भी न्यूड होने को बोलेगी।

फिर आप भी न्यूड हो जाते हैं। उसके बाद उस लड़की द्वारा आपके हरकत को व्हाट्सएप स्क्रीन वीडियो रिकार्डिंग व स्क्रीनशॉट फोटो ले लिया जायेगा जिसकी जानकारी आपको नहीं रहेगी। अब रिकार्डेड न्यूड फोटो व वीडियो को दोस्तों में वायरल करने की धमकी दी जायेगी। जिसकी एक प्रति सबसे पहले आपको भेजेगी।

इसके बाद लड़की और अन्य साइबर अपराधियों के एक समूह द्वारा धमकाना शुरू किया जायेगा और पैसे की मांग की जायेगी। उनकी मांग पूरी न करने पर आपका न्यूड फोटो व वीडियो दोस्तों में वायरल करने की धमकी दी जायेगी। अब अपनी प्रतिष्ठा को बचाने के लिए उनके बताये गये खाते में रकम को भेजा जाता है, उसके द्वारा फिर धमकी भरे कॉल आएंगे और पैसे की मांग की जायेगी।

अब पैसे न देने पर फिर दूसरे नंबर से कॉल आयेगा। यू-ट्यूब का अधिकारी बनकर बात करेगा और कहा जायेगा कि आपकी एक अश्लील वीडियो यू-ट्यूब पर पड़ा है। जिसको हटाने के आपसे पैसे की मांग की जायेगी।

फिर आपके पैसे न देने पर पुनः एक अलग नंबर से कॉल आयेगा और बताया जायेगा ‘मैं साइबर क्राइम सेल से बोल रहा हूँ आपके खिलाफ एक लड़की द्वारा शिकायत दर्ज की गयी है’, फिर आपको धमका कर आपसे पैसे की मांग की जायेगी। जबकि साइबर क्राइम सेल द्वारा कोई रकम की मांग नही की जाती।

सावधानियां

  • 1 – कभी भी अपरचित व्यक्ति का फ्रेंड रिक्वेस्ट फेसबुक पर एक्सेप्ट न करें।
  • 2- किसी अंजान व्यक्ति द्वारा मैसेंजर पर किए गए मैसेज को अनदेखा करें।
  • 3- अगर आपके मैसेंजर पर आपके मित्र द्वारा पैसे की मांग की जाती हैतो सबसे पहले आप अपने मित्र से दूरभाष या किसी अन्य माध्यम से सम्पर्क कर वार्ता कर संतुष्ठ हो ले, आवश्यकता होने पर लेन-देन करें।
  • 4- हमेशा व्हाट्सएप अकाउंट पर टू फैक्टर ऑथेंटिकेशन या टू स्टेप वैरिफिकेशन को इनेबल रखे। ऐसा करने से आपका व्हाट्सएप कभी हैक नहीं किया जा सकता।

कैसे करें टू स्टेप वेरिफिकेशन

  • स्टेप- 1 – पहले अपना व्हाट्सएप खोलें।
  • स्टेप -2- सेटिंग में जाएं।
  • स्टेप- 3- अकाउंट में जाएं।
  • स्टेप- 4- टू स्टेप वैरिफिकेशन में जाएं।
  • स्टेप- 5- इनेबल करें
  • स्टेप- 6- 6 अंकों का गोपनीय पिन डालें और नेक्स्ट करें।
  • स्टेप- 7- अपनी ई-मेल आईडी डालें और नेक्स्ट करें हो गया आपका टू स्टेप वैरिफिकेशन इनेबल।

सुझाव

पुलिस अधीक्षक डा.विपिन ताडा ने कहा कि फ्रॉड कॉल, लॉटरी, ओएलएक्स पर खरीदारी, या किसी अन्य प्रकार से साइबर ठगी में रकम भेंजने से पहले साइबर सेल से जानकारी लेकर ही लेन-देन करें। साइबर अपराधों की जानकारी ही, साइबर अपराध से बचाव है। स्वयं जागरूक हो और दूसरों को भी जागरूक करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *