पहले होगा ये काम तभी देश के हर नागरिक को मिलेगी कोरोना की वैक्सीन

वैज्ञानिक कसौटी पर खरी होने के बाद ही हर भारतीय को दी जाएगी वैक्सीन: पीएम मोदी

नई दिल्ली। देश में कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बात की। इन राज्यों में गुजरात, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, दिल्ली, हरियाणा, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, राजस्थान सहित कई राज्य व केन्द्र शासित प्रदेश शामिल हैं। इस बैठक में टीके के वितरण को लेकर बनाई गई रणनीति पर चर्चा की गई और राज्यों से इस बारे में लिखित में सुझाव भी मांगे गए। बैठक में सभी मुख्यमंत्रियों को टीके के वितरण को लेकर कारगर योजना बनाने को कहा गया।

Corona vaccine 1

सभी मुख्यमंत्रियों को सुनने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि वैक्सीन को लेकर भारत के पास अच्छा अनुभव है। हमारे लिए इसके वितरण को लेकर स्पीड जितनी महत्वपूर्ण है, उतनी ही जरूरी लोगों की सुरक्षा भी है। भारत में जो भी वैक्सीन वितरित की जाएगी वो वैज्ञानिक कसौटी पर पूरी तरह से खरी होगी। यानि कि वैज्ञानिक टेस्ट के बाद ही लोगों को वैक्सीन मिल सकेगी।

इस मौके पर प्रधानमंत्री ने सभी मुख्यमंत्रियों का आभार व्यक्त करते हुए वैक्सीन वितरण में बेहतर रणनीति बनाने की दिशा में मुख्यमंत्रियों से सुझाव मांगे। उन्होंने कहा कि शुरू से ही कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एक- एक देशवासियों के जीवन रक्षा करना हमारी प्रथामिकता रही है। महामारी की वैक्सीन आने के बाद हमारी प्राथमिकता इसे जन-जन तक पहुंचाना होगा।

उन्होंने कहा कि देश में कोरोना से मरने वालों की दर और रिकवरी दर में भारत दूसरे देशों के मुकाबले बहुत संभली हुई है। केन्द्र और राज्यों के अथक प्रयासों से देश में टेस्टिंग से लेकर इलाज तक में एक बड़ा नेटवर्क काम कर रहा है। पीएम केयर फंड से ऑक्सीजन और वेंटिलेटर उपलब्ध कराने पर भी जोर दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अभी कोई भी ढिलाई नहीं होनी चाहिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *