Ayurveda में सोवा के जड़ी-बूटी को मानते हैं वजन घटाने की दवा, जानें क्या है इस्तेमाल करने के तरीके

बढ़ता वजन एक बड़ी समस्या हैं, इसके लिए लोग नाना प्रकार के नुस्ख़े अपनाते हैं। कुछ लोग डायटिंग का सहारा लेते हैं,

आयुर्वेद (Ayurveda) में सोवा के जड़ी-बूटी को वजन घटाने की दवा मानते हैं। बढ़ता वजन एक बड़ी समस्या हैं, इसके लिए लोग नाना प्रकार के नुस्ख़े अपनाते हैं। कुछ लोग डायटिंग का सहारा लेते हैं, तो कुछ लोग घंटों वर्कआउट करते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो जंक फ़ूड के अत्यधिक सेवन करने से वजन बढ़ता है। इसके लिए जंक फ़ूड से परहेज करना चाहिए।

dill

साथ ही कैलोरी काउंट जरूर करें। अगर आप भी मोटापे से परेशान हैं और बढ़ते वजन को कंट्रोल करना चाहते हैं, तो रोजाना सोया का सेवन कर सकते हैं। तो आइए, इसके बारे में सबकुछ जानते हैं (Ayurveda)-

सोवा क्या है (Ayurveda)

आयुर्वेद (Ayurveda) में सोवा को जड़ी-बूटी माना जाता है। इसकी पत्तियों, फूलों और बीजों का इस्तेमाल किया जाता है। यह सौंफ के पौधे के समतुल्य होता है। कई बार दोनों को पहचानने में दिक्कत होती है। कई लोग सोवा को सौंफ ही समझ लेते हैं। इसमें कई औषधीय गुण पाए जाते हैं, जो सेहत के लिए लाभदायक होते हैं।

कई बीमारियों में सोवा को दवा की तरह यूज किया जाता है। खासकर मोटापा के लिए तो सोवा किसी वरदान से कम नहीं है। सोवा की पत्तियों में एंटी ऑक्सीडेंट्स के गुण पाए जाते हैं। साथ ही इसमें कैलोरी बहुत कम होती है। इसके लिए हेल्थ एक्सपर्ट्स बढ़ते वजन को कंट्रोल करने के लिए सोवा की पत्तियों का सेवन करने की सलाह देते हैं। (Ayurveda)

कैसे करें सेवन

बढ़ते वजन को कंट्रोल करने के लिए आप कई प्रकार से सोवा की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आप ग्रीन टी में सोवा की पत्तियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। साथ ही सोवा की पत्तियों की चाय बनाकर भी पी सकते हैं। (Ayurveda)

सोवा चाय पीने से फैट तेजी से बर्न होने लगता है। अगर आप सोया चाय नहीं पीना चाहते हैं, तो सोवा की पत्तियों को पानी में अच्छी तरह उबालकर काढ़ा की तरह पिएं। इससे पाचन तंत्र मजबूत होता है और मेटाबॉलिज़्म बूस्ट होता है। (Ayurveda)

Ladyfinger Benefits: सेवन से दूर होता है डायबिटीज का ख़तरा, जानें क्या हैं इसका राज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *