लखीमपुर हिंसा: प्रियंका के बाद हिरासत में लिए गए अखिलेश यादव, मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 9, पत्रकार का शव बरामद

लखीमपुर खीरी मामले को लेकर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बीती रात हाईलेवल मीटिंग की, जिसमें यूपी के डीजीपी और अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी भी मौजूद थे.

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में रविवार को किसानों के प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा (Lakhimpur Kheri Violence) में 8 लोगों की मौत हो गई. मरने वालों में 4 किसान, 3 बीजेपी कार्यकर्ता और 1 बीजेपी नेता का ड्राइवर शामिल है. इस बीच मामले को लेकर उत्तर प्रदेश की राजनीति गरमा गई है और अलग-अलग पार्टियों के नेता लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) आने की कोशिश में हैं.

वहीँ लखीमपुर खीरी मामले को लेकर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने बीती रात हाईलेवल मीटिंग की, जिसमें यूपी के डीजीपी और अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी भी मौजूद थे. सीएम योगी ने बयान जारी कर हिंसा पर दुख जताया है और कहा है कि जांच होगी और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को हिरासत में लिया गया, जिसका समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने विरोध किया. गौरतलब है कि वहीँ इससे पहले लखीमपुर खीरी जाने से रोके जाने पर अखिलेश यादव लखनऊ में अपने घर के बाहर धरने पर बैठ गए थे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *