मध्‍य प्रदेश विधानसभा उपचुनाव : जानिए भाजपा और कांग्रेस में कौन चल रहा है आगे

अब तक आए रुझानों में भाजपा का कमल खिलता दिख रहा है। शिवराज सरकार के 10 मंत्री आगे चल रहे हैं।

भोपाल। मध्‍य प्रदेश के विधानसभा उपचुनाव में 28 सीटों के सुबह 10 बजे तक के आए रुझान को देखें तो 17 सीटों पर भाजपा और 9 सीट पर कांग्रेस आगे है। शिवपुरी की पोहरी सीट और मुरैना सीट पर बसपा उम्मीदवार आगे चल रहे हैं। अब तक आए रुझानों में भाजपा का कमल खिलता दिख रहा है। शिवराज सरकार के 10 मंत्री आगे चल रहे हैं।
Madhya Pradesh
  उल्‍लेखनीय है कि शिवराज सरकार के 12 मंत्रियों और 2 पूर्व मंत्रियों ( तुलसी सिलावट और गोविंद सिंह राजपूत पद से इस्तीफा दे चुके) की किस्मत का फैसला आज होने जा रहा है।

यह है वर्तमान दलीय स्‍थिति

सांवेर, इंदौर से तुलसीराम सिलावट (भाजपा) आगे चल रहे हैं, सुरखी, सागर गोविंद सिंह राजपूत (भाजपा) आगे,डबरा ग्वालियर इमरती देवी (भाजपा) आगे, सांची, रायसेन प्रभुराम चौधरी (भाजपा)आगे, ग्वालियर प्रद्युम्न सिंह तोमर (भाजपा) आगे, मेहगांव, भिंड हेमंत कटारे (कांग्रेस) आगे,  अनूपपुर बिसाहूलाल सिंह (भाजपा) आगे,  बदनावर, धार राजवर्धन सिंह (भाजपा) आगे,  सुवासरा, मंदसौर हरदीप सिंह डंग (भाजपा) आगे, बड़ामलहरा, छतरपुर प्रद्युम्न सिंह लोधी (भाजपा) आगे, नेपानगर, बुरहानपुर सुमित्रा देवी कास्डेकर (भाजपा) आगे,  बमोरी  गुना महेन्द्र सिंह सिसोदिया (भाजपा) आगे,  सुमावली मुरैना में  अजब सिंह कुशवाह (कांग्रेस) आगे,  मुंरैना में बहुजन समाजवादी पार्टी आगे, भांडेर, दतिया फूल सिंह बरैया (कांग्रेस) आगे, दिमनी, मुरैना गिर्राज दंडोतिया (भाजपा) आगे, अम्बाह, मुरैना सत्यप्रकाश सखवार(कांग्रेस)आगे, गोहद भिंड रणवीर जाटव (भाजपा) आगे, ग्वालियर पूर्व ग्वालियर मुन्नालाल गोयल (भाजपा) आगे, करैरा  शिवपुरी जसमंत जाटव (भाजपा) आगे, पोहरी शिवपुरी में बसपा आगे, अशोक नगर, अशोक नगर जजपाल सिंह “जज्जी”(भाजपा) आगे, मुंगावली अशोक नगर ब्रजेंद्र सिंह यादव (भाजपा), आगे, हाटपिपल्या  देवास राजवीर सिंह बघेल( कांग्रेस) आगे, मंधाता, खंडवा नारायण सिंह पटेल (भाजपा) आगे, जौरा मुरैना सूबेदार सिंह राजौधा (भाजपा) आगे, आगर में विपिन वानखेड़े (कांग्रेस) आगे, ब्याबरा, राजगढ़ में इस समय नारायण सिंह पंवार (भाजपा) आगे चल रहे हैं।

कमलनाथ ने कहा, अभी रुकें, कांग्रेस सरकार बनाएगी

उधर, पूर्व सीएम कमलनाथ ने कहा है कि अभी एक घंटे रुकें, स्‍थ‍िति साफ हो जाएगी। कांग्रेस को अपनी सरकार बनाने में सफल रहेगी। उधर जिस तरह से भाजपा के समर्थन में ज्यादा सीटें मिलती दिख रही हैं, इससे शुरूआती रुझान में लगता है कि प्रदेश में शिवराज की सरकार को कोई खतरा नहीं है, वह आगे भी लगातार बनी रहेगी। वहीं, अब  सत्ता और संगठन में ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया का दखल और कद भी बढ़ेगा ।
उल्‍लेखनीय है कि मार्च 2020 में ज्योतिरादित्य सिंधिया के भाजपा में शामिल होने के बाद उनके 22 समर्थकों ने भी कांग्रेस पार्टी और विधायकी से इस्तीफा दे दिया था । ये सभी भाजपा में शामिल हो गए थे। इसके बाद कांग्रेस की कमलनाथ सरकार अल्पमत में आकर गिर गई और उसके बाद 3 और विधायकों ने इस्तीफा भी दे दिया,  जिसके बाद सीटों की संख्या 25 हो गई थीं। 3 सीटें विधायकों के निधन से खाली हो गईं, जिसके कारण से मध्‍य प्रदेश में कुल 28 सीटों पर विधानसभा के उप चुनाव सम्‍पन्‍न कराए गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *