पाकिस्तानी एजेंट हैं महबूबा मुफ्ती, इन्हें जेल में डाला जाए, जानें क्यों कश्मीर में मचा बवाल

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के तिरंगे को लेकर दिए विवादित बयान पर हंगामा मचा हुआ है।

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के तिरंगे को लेकर दिए विवादित बयान पर हंगामा मचा हुआ है। देश भर में भाजपा नेता उनके बयान की निंदा कर रहे हैं और उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की बात कह रहे हैं।

mahboba mufti

इसी क्रम में मध्य प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर और भाजपा नेता रामेश्वर शर्मा का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने महबूबा मुफ्ती के बयान की कड़े शब्दों में भर्तसना करते हुए उन पर बड़ा हमला बोला है और महबूबा मुफ्ती को पाकिस्तानी एजेंट करार दिया है।

जम्मू कश्मीर की नेत्री महबूबा मुफ्ती द्वारा तिरंगा झंडा को लेकर दिए गए बयान पर प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने हमला किया है। उन्होंने उनके बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि महबूबा मुफ्ती यह कान खोलकर सुन लें कि यह देश हिन्दुस्तान है। उनके बाप को इस देश ने गृहमंत्री के रूप में स्वीकार किया था। आज तुम्हारा असली चेहरा और चरित्र सामने आ गया। अगर तुम हिन्दुस्तान का तिरंगा हाथ में नहीं लोगी, तो महबूबा मुफ्ती और फारुक अब्दुल्ला कान खोलकर सुन ले कि कश्मीर की धरती पर हिन्दुस्तान का तिरंगा जो लेगा वही नेतागिरी कर पएगा, वही सीएम बन पाएगा, वही कश्मीर में रह पाएगा।

रामेश्वर शर्मा ने कहा कि जो देश के तिरंगे का अपमान करेगा, वह चाहे किसी भी जाति- धर्म का हो वह हिन्दुस्तान में रह भी नही पाएगा। इस देश की सरकार अब इस हिसाब से चलेगी कि देशद्राहियों को हम कुचलेंगे। हिन्दुस्तान के राष्ट्रध्वज का जो अपमान करेगा उसे जेल के अंदर डाला जाएगा। प्रोटेम स्पीकर शर्मा ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि महबूबा मुफ्ती अगर तुमको और तुम्हारे पुरखों को हिन्दुस्तान में रहना है तो तिरंगा हाथ में लेना ही पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि देश में मोदी सरकार है, ऐसे लोगों पर देशद्रोह का केस दर्ज कर अपराधी बनाकर जेलों में डाला जाएगा। जो तिरंगे का, संविधान का, देश का अपमान करेगा, जो भारत माता को गाली दे, ऐसे लोग देशद्रोही है। चाहे महबूबा मुफ्ती हों, फारुक अब्दुल्ला हों या उनके चट्टे-बट्टे जो भी हों, यह सब पाकिस्तान के एजेंट हैं। ऐसे एजेंटों को जेल में डाला जाए और इनके खिलाफ सख्त कार्यवाई की जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *