अब इस देश में शुरू हुआ चीन के खिलाफ प्रदर्शन, इस ख़ास समुदाय ने लिया हिस्सा

चीन की विवादित भाषा नीति के विरोध में प्रदर्शन किया जिसके तहत चीन में स्वायत्त मंगोलिया क्षेत्र के शैक्षणिक संस्थानों में मंगोलियाई भाषा की जगह मेंडरिन से पढ़ाई होगी

टोक्यो, 14 सितम्बर । मंगोलियन समुदाय के लोगों ने टोक्यो में चीन की सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया है। दरअसल इन लोगों ने चीन की विवादित भाषा नीति के विरोध में प्रदर्शन किया जिसके तहत चीन में स्वायत्त  मंगोलिया क्षेत्र के शैक्षणिक संस्थानों में मंगोलियाई भाषा की जगह मेंडरिन से पढ़ाई होगी। इस प्रदर्शन में लगभाग 1000 लोगों ने भाग लिया।

china protest

आपको बता दें कि इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने मास्क पहने हुए थे और बीजिंग की भाषा नीति के खिलाफ नारे लगाए जा रहे थे। गौरतलब है कि इससे कुछ दिनों पहले भी जापान में रहने वाले मंगोलियाई लोगों ने चीन के विरोध में प्रदर्शन किया था।

उल्लेखनीय है कि इनर मंगोलिया में शैक्षणिक संस्थानों में मेंडरिन भाषा को मुख्य भाषा के रूप में लाने को लेकर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। मंगोलियन समुदाय के लोगों का कहना है कि यह उनकी संस्कृति को मिटाने का प्रयास है। इसके विरोध में छात्र सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन कर रहे हैं और अभिभावक विरोध जताने के लिए अपने बच्चों को संस्थानों में ना भेजने की बात भी कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *