Challan काट रही थी पुलिस, युवक ने मोबाइल में दिखाई एक तस्वीर, दरोगा बोली- ठीक है जाओ

ऐसा ही एक वाकया हाल ही में हुआ जहां पुलिस ने आधी रात में एक शख्स को पकड़ा और उसका Challan काटने लगी मगर तभी शख्स ने अपना मोबाइल खोला और उसमें से एक ऐसी फोटो दिखाई जिसे देखने के बाद पुलिस ने कहा कि ठीक है जाओ।

अपने वाहन में सड़क पर चलते हुए जो सबसे बड़ा भय लगता है वो यही कि गलती से भी हमसे कोई गलती न हो जाये जिससे पुलिस पकड़ कर हमारा चालान (Challan) काट दे मगर कई बार हम ना चाहते हुए भी पुलिस के चंगुल में फंस ही जाते हैं। ऐसा ही एक वाकया हाल ही में हुआ जहां पुलिस ने आधी रात में एक शख्स को पकड़ा और उसका चालान काटने लगी मगर तभी शख्स ने अपना मोबाइल खोला और उसमें से एक ऐसी फोटो दिखाई जिसे देखने के बाद पुलिस ने कहा कि ठीक है जाओ।

Police challan
Police challan

जानें क्या है पूरा मामला?

दरअसल एशियाई खेल में स्वर्ण पदक जीतने वाले जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा उस एकेडमी में थे, जहां से उन्होंने अभ्यास किया था। नीरज के बारे में बताया जाता है कि वो 2011 से लेकर 2015 तक पंचकूला में ही रहे हैं। ऐसे में हाल ही में नीरज ने यहां से जुड़े कुछ गजब किस्से भी लोगों से शेयर किए। स्वर्ण पदक विजेता ने बताया कि मैं अपने मित्रों के साथ बहुत समय स्पेंड करता था। लगभग डेढ़ साल पहले की बात है कि जब मैं पंचकूला में अपने दोस्त के साथ बाइक पर विदाउट हेलमेट जा रहा था।(Challan)

उसने कहा कि हमें उस हालत में देखकर ट्रैफिक पुलिस ने हमे रोक लिया। पुलिस द्वारा पकड़े जाने के बाद हम घबरा गए थे और हमने उनसे चालान न काटने की रिक्वेस्ट की और आगे से हेलमेट पहनने की बात कही, मगर पुलिसवालों ने हमारी एक नहीं सुनी। तब मैंने आगे बढ़कर मोर्चा संभाला और कहा कि कि ऑफिसर! मैं एक नेशनल प्लेयर हूं’ , मगर पुलिसकर्मी ने हमारी हर बात की ही तरह इसको भी रिजेक्ट कर दिया।(Challan)

मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था कि अब क्या किया जाए। इसके बाद मैंने अपना फोन पुलिसवाले को दिखाया, जिसके वॉलपेपर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मेरी फोटो लगी थी। वो फोटो देखते ही पुलिसकर्मी हंसने लगा और हमसे कहा कि चलो इस बार छोड़ देता हूं, मगर आगे से हेलमेट जरूर लगाना है। इसके बाद मैं और मेरे दोस्त कैसे भी करके वहां से निकल गए।(Challan)

 

West Bengal Election: ग्रामीण क्षेत्रों में जनाधार बढ़ाने के लिए नड्डा करेंगे सबसे बड़ा काम!

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *