कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के हिंसक प्रदर्शन पर राहुल गांधी ने दिया ये बड़ा बयान

कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जताने के लिए गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर रैली निकालने वाले किसानों ने आज दिल्ली में हिंसक उपद्रव किया है।

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध जताने के लिए गणतंत्र दिवस के मौके पर ट्रैक्टर रैली निकालने वाले किसानों ने आज दिल्ली में हिंसक उपद्रव किया है। इस दौरान लाल किला पर प्रदर्शन के साथ तिरंगा फहराए जाने वाले स्थान से अपने संगठन का झंडा फहरा कर किसानों ने राष्ट्रीय भावना का अपमान किया।
rahul gandhi
किसानों के इस हिंसक व्यवहार को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी ग़लत ठहराया है। उन्होंने कहा कि हिंसा किसी भी बात का हल नहीं।

किसी भी सूरत में हिंसा सही नहीं

राजधानी दिल्ली में प्रदर्शनकारी किसानों के उपद्रव पर अफसोस जताते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा  कि किसी भी सूरत में हिंसा सही नहीं है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ”हिंसा किसी समस्या का हल नहीं है। चोट किसी को भी लगे, नुक़सान हमारे देश का ही होगा। देशहित के लिए कृषि-विरोधी क़ानून वापस लो!”

दिल्ली में स्थिति तनावपूर्ण

दरअसल, किसानों के ट्रैक्टर मार्च में हुई हिंसा की वजह से दिल्ली में स्थिति तनावपूर्ण है। पुलिस द्वारा तय रूट से विरत किसान दिल्ली में ट्रैक्टर लेकर घुसे। पुलिस के लगाये बैरिकेडिंग को तोड़ते हुए आगे बढे। इस दौरान पुलिस और किसानों के बीच झड़प भी हुई। इस तरह गणतंत्र दिवस की परेड के समानांतर किसानों की ट्रैक्टर परेड निकालने और उस दौरान उपद्रव की आशंका आखिरकार सच साबित हुई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *