गैंगरेप पीड़िता की खुदकुशी का मामला, कोतवाली प्रभारी समेत दो निलंबित

चित्रकूट में दुष्कर्म पीड़ित किशोरी ने की खुदकुशी, कोतवाली प्रभारी समेत दो निलंबित

कर्वी कोतवाली के खरौंध गांव में सामूहिक दुष्कर्म पीड़ित किशोरी के खुदकुशी के बाद परिजनों और ग्रामीणों में बढ़ रहे आक्रोश को भांपते हुए प्रशासन ने पूरे गांव को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया है।

dushkarm ke mamale me kotwal aur chaki prabhari nilambit

गांव में कानून व्यवस्था सुदृढ रखने के लिए चित्रकूटधाम मंडल बांदा के आईजी के सत्यनारायण स्वयं जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय एवं अपर पुलिस अधीक्षक प्रकाश स्वरूप पांडेय के साथ मोर्चा संभाले हुए हैं। वहीं, आईजी ने किशोरी से हुए दुष्कर्म के मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में कर्वी कोतवाल प्रभारी जय शंकर सिंह एवं सरैंया चौकी प्रभारी अनिल कुमार साहू को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया है।

इस घटना को लेकर जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय का कहना है कि दुष्कर्म के आरोपितों को किसी कीमत पर बक्शा नहीं जायेगा। मुख्य आरोपित किशन समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

यह है पूरा मामला

कोतवाली कर्वी अन्तर्गत खरौंध गांव में आठ अक्टूबर को नित्यक्रिया के लिए गई 15 वर्षीय किशोरी के साथ गांव के ही तीन दबंगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। परिजनों द्वारा घटना की जानकारी पुलिस को दिये जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। इससे आहत होकर किशोरी ने मंगलवार को फांसी लगा ली थी। इस घटना के बाद पूरे गांव में आक्रोश व्याप्त हो गया था। घटना के बाद गांव पहुंचे चित्रकूटधाम मंडल के आईजी, जिलाधिकारी, और एएसपी ने परिजनों से मुलाकात कर न्याय दिलाने का भरोसा दिया। इसके बाद पुलिस ने ताबड़तोड़ कार्रवाई करते हुए तीन आरोपितों को धर दबोचा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *