प्राइवेट अस्पतालों को बड़ा झटका- PPE किट से लेकर ऑक्सीजन तक का रेट हुआ फिक्स, यहां जानें नए दाम

निजी अस्पतालों की फीस पर लगाम, पीपीई किट से लेकर ऑक्सीजन तक का रेट फिक्स

नई दिल्ली॥ कोरोना मरीजों के इलाज के नाम पर शहर में संचालित हो रहे निजी अस्पतालों की मनमाना शुल्क और मरीज के भर्ती होने के दौरान होने वाले अन्य खर्च प्रशासन व स्वास्थ्य अमले ने निर्धारित कर दिए हैं। अस्पतालों में पीपीई किट से लेकर डिस्पोजेबल बेडशीट सहित खाने से लेकर ऑक्सीजन की दरें तय कर दी हैं। प्रशासन द्वारा निर्धारित की गई दरों से अधिक कोई भी निजी अस्पताल मरीजों से वसूलेगा उस अस्पताल संचालक के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

PPE KIT

अब शहर में ऐसे निजी अस्पताल जो कोविड मरीजों के इलाज के लिए अधिकृत किए गए हैं, ऐसे निजी अस्पतालों में भर्ती होने वाले कोविड मरीज के इलाज के दौरान दवा से लेकर अन्य उपयोग किए जाने वाले सामान की दरें तय कर दी गई है। अब कोई भी निजी अस्पताल प्रशासन स्तर पर तय की गई दर से ही मरीज से भुगतान लेना होगा।

1500 रुपये पीपीई किट के लिए

अब कोई भी निजी अस्पताल मरीज से एक दिन में पीपीई किट के 1500 रुपये से अधिक नहीं लेंगे। इसमें विजिटर डॉक्टर, ड्यूटी डॉक्टर, पैरामेडिकल स्टॉफ, हाउस कीपिंग व लैब टैक्निशियन आदि की किट भी शामिल रहेगी।

ऑक्सीजन का रेट भी तय

निजी अस्पताल प्रबंधन प्रति कोविड मरीज से प्रतिदिन सात सौ रुपए मरीज के भोजन, ब्रैकफास्ट, डिस्पोजल बेडशीट व डेंटल किट व कमरों की सफाई व्यवस्था का शुल्क शामिल किया गया है। वहीं ऑक्सीजन (हाइफ्लोऑक्सीजन छोडक़र) का शुल्क प्रतिदिन पन्द्रह सौ रुपये से अधिक मरीज से नहीं ले सकेंगे। वहीं हाईफ्लो ऑक्सीजन की दर प्रतिदिन ढाई हजार रुपए प्रति मरीज से लेंगे।

यही नहीं प्रशासन ने अस्पताल और पैथोलॉजी में होने वाली जांच की दर भी कोरोना काल से पूर्व ही निर्धारित की है। वहीं दवा का शुल्क मरीज से निजी अस्पताल दवा पर अंकित एमआरपी से अधिक नहीं ले सकेंगे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *