जानलेवा है कोरोना की दूसरी लहर, बॉडी के ये अंग हो रहे खराब, जानें कोविड-19 मरीजों को कौन कौन-सी हो रहीं परेशानियां

चिकित्‍सकों का कहना है कि गंभीर हालत होने पर शरीर के कई अंग प्रभावित होने लगते हैं ऐसे में कान और आंख पर भी असर दिखाई दे रहा है।

अजब-गजब॥ भारत में कोरोना के नए मामलों की संख्या दो लाख के पार पहुंच गई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना के दो लाख 17 हजार 353 नए मामले सामने आए हैं। महामारी का दूसरा दौर पहले से काफी खतरनाक नजर आ रही है।

corona hariyana

चिकित्सकों के मुताबिक इस बार कोरोना का संक्रमण आंख और कान पर सीधा असर कर रहा है। अबकी बार का नया स्‍ट्रेन मुख्‍य रूप से वायरल बुखार के साथ, डायरिया, पेट दर्द, उल्‍टी दस्‍त, अपच गैस, भूख न लगना और बदन दर्द जैसे लक्षण के साथ सामने आया था मगर जैसे जैसे वायरस का संक्रमण फैल रहा है कुछ और लक्षण भी सामने आने लगे हैं।

KGMU सहित कई अन्य कोविड अस्पतालों में एडमिट कोरोना पीड़ितों को देखने और सुनने में परेशानी बढ़ गई है। इन संस्‍थानों के चिकित्‍सा विशेषज्ञों ने बताया कि ऐसे कई मरीज हमारे सामने हैं जिन्‍हें दोनों कान से सुनना काफी कम हो गया है। इसके अलावा कुछ कोरोना संक्रमित मरीजों की ओर से दिखाई कम देने की भी शिकायतें सामने आई है। चिकित्‍सकों का कहना है कि गंभीर हालत होने पर शरीर के कई अंग प्रभावित होने लगते हैं ऐसे में कान और आंख पर भी असर दिखाई दे रहा है।

डॉक्टरों ने बताया कि इस बार जिस तरह से कोरोना ने अपना रूप बदला है उसके बाद से चिंता और बढ़ गई है। महामारी के बढ़ते मामलों को देखने के बाद डॉक्‍टरों का कहना है कि लापरवाही को छोड़कर कोरोना के प्रोटोकॉल का पालन करना ही एक मात्र उपाय है। डॉक्‍टरों का कहना है कि नए वैरिएंट के मामले में राहत देने वाली बात यह है कि नया स्ट्रेन अगर रोगी की प्रतिरोधक क्षमता ठीक है तो अधिक समय तक परेशान नहीं करता और अधिकतम पांच से छह दिनों में सामान्य भी होने लगता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *