आजम खान पर एक और नई मुसीबत, अब इस बात की जांच करेगी एसआईटी

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार सपा सांसद आजम खान के द्वारा बनवाए गए गाजियाबाद और लखनऊ में हज हाउस के निर्माण की जांच कराएगी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार सपा सांसद आजम खान के द्वारा बनवाए गए गाजियाबाद और लखनऊ में हज हाउस के निर्माण की जांच कराएगी। राज्य सरकार को पता चला है कि इस विभाग में गड़बड़ियां हुई थीं। जिसके चलते जांच कराने का फैसला लिया गया है।

बता दें यूपी सरकार के इस फैसले के बाद आजम खान की मुश्किलें और भी बढ़ सकती हैं। दरअसल यूपी सरकार ने बतौर मंत्री आजम खान के कार्यकाल में अल्पसंख्यक विभाग में हुए कामों की जांच कराने का फैसला किया है।

एसआईटी से जांच कराने के दिये आदेश

राज्य के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नंद गोपाल नंदी ने पीएम जन कल्याण योजना के तहत अल्पसंख्यक विभाग में कराए गए कार्यों की जांच एसआईटी से कराने के आदेश दे दिए हैं। सूत्रों के मुताबिक राज्य सरकार को पता चला है कि इस विभाग में गड़बड़ियां हुई थीं, जिसके चलते जांच कराने का फैसला किया गया है. सरकार की इस घोषणा के बाद आजम खान मुश्किलों में पड़ सकते हैं। इस विशेष जांच में लखनऊ और गाजियाबाद में हज हाउस के निर्माण की भी जांच कराई जाएगी।

एनजीटी के आदेश पर सील कर दिया गया था हज हाउस

आपको बता दें कि इसी साल फरवरी में प्रशासन ने गाजियाबाद में बने हज हाउस को एनजीटी के आदेश पर सील कर दिया था। रिपोर्ट के मुताबिक इसमें सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट नहीं था। इस वजह से इससे निकलने वाला पानी हिंडन नदी के पानी को गंदा कर रहा था। इससे पहले रामपुर डेवलपमेंट अथॉरिटी ने अगस्त महीने के आखिरी दिनों में आजम खान के हमसफर रिजॉर्ट को तोड़ने के लिए नोटिस जारी किया था। जिसमें कहा गया कि सपा सांसद 15 दिनों के अंदर स्वयं अवैध निर्माण को ध्वस्त करें।

26 फरवरी से जेल में बन्द है आजम खान और उनका परिवार

बता दें कि फर्जी जन्म प्रमाणपत्र मामले में समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान, उनके बेटे अब्दुल्ला आजम और पत्नी सपा विधायक तजीन फातिमा 26 फरवरी से जेल में बंद हैंं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *