SRH vs DC- दिल्ली के जीत के हीरो बने मार्कस स्टोइनिस ने बताया अपनी कामयाबी का असली मंत्र

स्टोइनिस ने कहा हम यदि अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलते हैं, तो हमें खिताब जीतने से कोई नहीं रोक सकता

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के दूसरे क्वालीफायर में सनराइजर्स हैदराबाद पर 17 रनों से जीत दर्ज करने के बाद, दिल्ली कैपिटल्स के हरफनमौला खिलाड़ी मार्कस स्टोइनिस ने कहा कि यदि मुंबई के खिलाफ फाइनल मुकाबले में भी उनकी टीम अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलती है तो फिर उन्हें टूर्नामेंट जीतने से कोई नहीं रोक सकता।

Marcus Stoinis IPL

हैदराबाद के खिलाफ मैच के बाद स्टोइनिस ने कहा,”फाइनल में पहुंचना एक अच्छा अहसास है। फाइनल की तैयारी खास होगी। बड़े मुकाबले के लिए अपनी रणनीति पर टिके रहना जरूरी है। मुंबई इस पूरे सीजन में लगातार बेहतर रही है और उन्होंने हमें दो बार हराया है, लेकिन मुझे लगता है कि अगर हम अपना सर्वश्रेष्ठ क्रिकेट खेलते हैं, तो हमें खिताब जीतने से कोई नहीं रोक सकता।”
अपनी गेंदबाजी के बारे में बात करते हुए, स्टोइनिस ने कहा, “इस प्रारूप में गेंदबाजी करना हमेशा कठिन होता है, मैदान पर पहुंचने से पहले यह योजना के बारे में होता है। आप कप्तान और कोच से बात करते हैं, टी-20 मैचों में अपनी ताकत पर डटे रहना महत्वपूर्ण है। आप हमेशा विकेट लेने के लिए ही नहीं बल्कि रन-रेट को भी नियंत्रित करने की कोशिश कर रहे हैं,जिससे अंततः विकेट मिलता है।”

बता दें कि आईपीएल के दूसरे क्वालीफायर में रविवार को श्रेयस अय्यर की कप्तानी में दिल्ली कैपिटल्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को 17 रनों से हराकर पहली बार फाइनल मुकाबले में प्रवेश किया। टीम अब अपने पहले आईपीएल खिताब की उम्मीद में मुंबई इंडियंस से भिड़ेगी जो अब तक चार बार खिताब अपने नाम कर चुकी है।

हैदराबाद के खिलाफ दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के बेहतरीन 78 रनों की अर्धशतकीय पारी की बदौलत तीन विकेट पर 189 रन का मजबूत स्कोर बनाया। हैदराबाद की तरफ से जेसन होल्डर,राशिद खान और संदीप शर्मा ने 1-1 विकेट लिया। इसके जवाब में सनराइजर्स हैदराबाद आठ विकेट पर 172 रन ही बना सकी। हैदराबाद की तरफ से केन विलियमसन ने सर्वाधिक 67 रन बनाए,जबकि दिल्ली की तरफ से कागिसो रबाडा ने सर्वाधिक 4 विकेट लिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *