तालिबान सरकार ने जारी किया नया फरमान, कहा- अगर अफगानिस्तान में किसी ने भी किया ऐसा तो॰॰॰

अफगानिस्तान के बैंक कैश की किल्लत से जूझ रहे हैं और इंटरनेशनल संगठनों ने फिलहाल तालिबानी सरकार को मान्यता नहीं दी है

अफगानिस्तान में जब से तालिबान की सरकार बनी है तब से वहां कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। तो वहीं ऐसे में खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को मद्देनजर रखते हुये अब तालिबान ने देश में नया फरमान लागू कर दिया है।

taliban

तालिबानी सरकार ने घोषणा की है कि अब से अफगानिस्तान के भीतर किसी भी विदेशी मुद्रा (foreign currency) का उपयोग नहीं किया जाएगा। तालिबान ने स्पष्ट कहा है कि यदि कोई इस निर्देश का उल्लंघन करेगा तो उसपर केस चलाया जाएगा।

आपको बता दें कि सत्ता पर विराजमान तालिबान ने 15 अगस्त को अफगानिस्तान पर कब्जा किया था। तबसे ही अफगान की मुद्रा का गिरना जारी है और विदेशों में उपस्थित मुल्क की संपत्ति भी अब रोकी जा चुकी है।

उल्लेखनीय है कि अफगानिस्तान के बैंक कैश की किल्लत से जूझ रहे हैं और इंटरनेशनल संगठनों ने फिलहाल तालिबानी सरकार को मान्यता नहीं दी है। इसी कड़ी में देश के कई हिस्सों में अमेरिकी डॉलर से खरीद-बिक्री होती है। वहीं, दक्षिणी सीमा के पास व्यापार के लिए पाकिस्तानी रुपयों का उपयोग भी किया जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *