UP Board exam के पैटर्न में होने जा रहा बड़ा बदलाव, जानें क्या होगी नई व्यवस्था

लखनऊ, 10 मई| राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) की सिफारिशों के अनुसार कक्षा 9 और 10 के छात्रों के लिए परीक्षा नए पैटर्न पर आयोजित की जाएगी।

UP Board exam

आपको बता दें कि प्रश्न पत्र दो भागों में विभाजित होगा। पहले खंड में, बहुविकल्पीय प्रश्नों (एमसीक्यू) के लिए 30 प्रतिशत अंक निर्धारित किए जाएंगे, जिनका उत्तर ओएमआर शीट पर दिया जाएगा। दूसरे खंड में 70 प्रतिशत अंक होंगे और यह वर्णनात्मक प्रकृति का होगा।

माध्यमिक शिक्षा मंत्री गुलाब देवी ने कहा, “अकादमिक कैलेंडर स्कूलों की वेबसाइटों पर अपलोड किया जाएगा। छात्र मानवीय मूल्यों, चरित्र निर्माण, देशभक्ति, समाज सेवा, महान व्यक्तित्वों के जीवन, पर्यावरण संरक्षण, स्वास्थ्य और यातायात नियम और पानी जैसे नैतिक और प्रासंगिक मुद्दों पर अपनी राय व्यक्त करेंगे।”

मंत्री ने कहा कि सभी स्कूलों को अगले साल 20 जनवरी तक पाठ्यक्रम पूरा कर लेना चाहिए। विभाग का स्कूलों में करियर काउंसलिंग सत्र आयोजित करने का भी प्रस्ताव है।छात्रों के सतत और व्यापक मूल्यांकन के लिए बोर्ड पांच मासिक परीक्षा आयोजित करेगा। जबकि तीन बहुविकल्पीय प्रश्नों (एमसीक्यू) पर आधारित होंगे, दो वर्णनात्मक होंगे। माध्यमिक विद्यालयों में ड्रॉपआउट दर को कम करने के लिए ‘स्कूल चलो अभियान’ भी आयोजित किया जाएगा।