टेस्ट मैच में शर्मनाक हरकत के बाद टिम पेन पर जुर्माना, अंपायर को दी थीं गंदी-गंदी गालियां

विवादों के मध्य ऑस्ट्रेलियाई टीम ने सिडनी टेस्ट में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है।

विवादों के मध्य ऑस्ट्रेलियाई टीम ने सिडनी टेस्ट में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है। ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए वर्तमान ग्राउंड पर सबकुछ अच्छा घट रहा है, सिवाय कप्तान टिम पेन के। ग्राउंड में अपनी एक गलती के कारण टिम पेन को ICC की ओर से सजा दी गई है। सिडनी टेस्ट के तीसरे दिन अंपायर के एक फैसले पर नाराजगी जाहिर करने के मुद्दे पर ICC ने टिम पेन पर मैच फीस के 15 प्रतिशत का जुर्माना लगाया है।

Tim

इंडिया के विरूद्ध टेस्ट मैच के तीसरे दिन भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा के विरूद्ध DRS का फैसला अपनी टीम के पक्ष में नहीं जाने पर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पेन ने इस पर नाराजगी जाहिर की थी और गुस्से में कुछ अपशब्द कहे थे। इसको लेकर मैदानी अंपायर पॉल राइफल, पॉल विल्सन, थर्ड अंपायर ब्रूस ऑक्सनफर्ड और फोर्थ अंपायर क्लेयर पोलोसाक ने मैच रेफरी डेविड बून को भेजी अपनी शिकायत में पेन पर ICC के कोड ऑफ कंडक्ट के आर्टिकल 2।8 के तहत आरोप लगाए थे।

इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल की तरफ से रविवार को जारी प्रेस रिलीज के अनुसार ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने अपनी गलती मानी और इन आरोपों को स्वीकार किया। ICC कोड ऑफ कंडक्ट के आर्टिकल 2.8 का संबंध ‘मैच के दौरान अंपायर के फैसले पर असहमति जताने’ से है।

जुर्माने के साथ 1 डिमेरिट पॉइंट

मैच के न्यायाधीशों की शिकायत पर मैच रेफरी डेविड बून ने टिम पेन को सजा देते हुए मैच फीस के 15 फीसदा का जुर्माना लगाया है। हालांकि, पेन का दोष कोड ऑफ कंडक्ट के लेवल 1 के तहत आता है, जिसके तहत कम से कम सजा के तौर पर आधिकारिक डांट मिलती है और ज्यादा से ज्यादा सजा के तौर पर मैच फीस का 50 फीसदी जुर्माना लगता है। साथ ही 2 डिमेरिट पॉइंट भी जुड़ते हैं।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *