लखनऊ की मंडी में टमाटर, नींबू की वापसी, रेट में गिरावट : मंडी सचिव

अभी नींबू, टमाटर के रेट में गिरावट आई है और आने वाले समय में और सुधार की स्थिति बनेगी।

लखनऊ॥ लखनऊ मण्डी सचिव संजय सिंह ने कहा कि कोविड के संकट कालीन समय में विटामिन सी की कमी दूर करने वाले टमाटर, नींबू की मात्रा में कमी के कारण रेट में वृद्धि हुई थी। अभी नींबू, टमाटर के रेट में गिरावट आई है और आने वाले समय में और सुधार की स्थिति बनेगी।

Tomato, Lemon

उन्होंने मीडिया एजेंसी से कहा कि मण्डी में नींबू भारी वाहनों में लदकर बेंगलुरु से आते हैं और टमाटर को जलयुक्त खेत में स्थानीय किसान बड़े पैमाने पर उगाता है। उत्तर प्रदेश के किसानों का टमाटर मण्डी में उपलब्ध है और इसमें टमाटर होलसेल में 800 से लेकर 11 सौ रुपये कुंटल के हिसाब से बिक रहा है।

संजय सिंह ने कहा कि मण्डी में नींबू भी इस समय ढाई सौ से लेकर साढ़े तीन सौ रुपये के हिसाब से मण्डी में बिक रहे हैं। टमाटर और नींबू दोनों ही का रेट गिरा है और होलसेल से फुटकर बाजार में दोनों की बिक्री बढ़ी है।

महत्वपूर्ण सब्जियां आलू और प्याज के संबंध में उन्होंने कहा कि इस समय आलू का होलसेल रेट हजार रुपये प्रति कुंटल और प्याज का रेट 900 से 14 सौ रुपये प्रति कुंतल तक है। इसके अतिरिक्त स्थानीय किसानों द्वारा लाई जाने वाली मौसमी सब्जियों के रेट में भी कोई बहुत अधिक बढ़ोतरी नहीं है। सभी सामान्य रेट पर ही बिक रही है।

लखनऊ मण्डी सचिव ने कोरोना को लेकर कहा कि सीतापुर रोड स्थित नवीन मण्डी में प्रत्येक रविवार को सैनिटाइजर द्वारा कोने कोने को स्वच्छ किया जा रहा है। मण्डी सोमवार से शनिवार तक सुबह सात से ग्यारह बजे तक खोली जा रही है और इस दौरान कोविड नियमों का पालन भी कराया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *