थरूर ने कोरोना रोकथाम पर सरकार को विफल बतानेपर बौखलाये संबित पात्रा, दिया ये जवाब

‘लाहौर थिंक फेस्ट’ नाम के कार्यक्रम में शशि थरूर ने ऑनलाइन जुड़ते हुए कहा था कि कोरोना महामारी के दौरान भेदभाव बढ़ा है। दिल्ली में तब्लीगी जमात की घटना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले के बाद दएश के अन्य हिस्सों में मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव के कई केस सामने आए। यही नहीं उत्तर पूर्व के लोगों के साथ भी भेदभाव की घटनाएं देखने को मिली हैं।

नई दिल्ली, 18 अक्टूबर। कोरोना महामारी की रोकथाम को लेकर सरकार की नीतियों और योजनाओं पर अक्सर सवाल खड़े करने वाली कांग्रेस पार्टी ने अब उस पर भेदभाव का आरोप लगाया है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता शशि थरूर ने एक कार्यक्रम में वर्चुअल तौर पर जुड़ते हुए कहा कि भारत में मुसलमानों और उत्तर पूर्व के लोगों के साथ भेदभाव होता है। उनके इस बयान के बाद से भारतीय जनता पार्टी हमलावर है और थरूर के बयान को देश की छवि खराब करने वाला बताया है। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि 50 देशों को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन पहुंचाने का काम मोदी सरकार ने किया है, इसके बावजदू सरकार को फेल बताना ग्रसित मानसिकता ही हो सकती है।shashi tharoor sambit patra

दरअसल, ‘लाहौर थिंक फेस्ट’ नाम के कार्यक्रम में शशि थरूर ने ऑनलाइन जुड़ते हुए कहा था कि कोरोना महामारी के दौरान भेदभाव बढ़ा है। दिल्ली में तब्लीगी जमात की घटना का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस मामले के बाद दएश के अन्य हिस्सों में मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव के कई केस सामने आए। यही नहीं उत्तर पूर्व के लोगों के साथ भी भेदभाव की घटनाएं देखने को मिली हैं।

उन्होंने कहा कि ‘एक-दूसरे से डर का माहौल बनाया जाता है। अगर व्हाट्सअप पर प्रचारित वीडियो को देखा हो आपने तो पता चलेगा कि चीनी लोगों या उनके जैसे दिखने वाले लोगों के साथ पश्चिमी देशों जगह-जगह भेदभाव हुआ। सिर्फ इसलिए कि वो चीन के लोगों जैसे दिखते हैं।’

कांग्रेस नेता ने कहा कि ऐसा ही कुछ मामला कोरोना महामारी के दौरान भी देखा गया, जब तब्लीगी जमात का मुद्दा उठा। लॉकडाउन से ठीक पहले तब्लीगी जमात के लोग जमा हुए थे और ये लोग जब अपने राज्यों में लौटे तो कोरोना का संक्रमण बढ़ा। इस घटना को भारत के मुसलमानों के खिलाफ भेदभाव को सही ठहराने के लिए इस्तेमाल किया गया।

शशि थरूर के इस बयान पर ही भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने पलटवार करते हुए कहा कि शशि थरूर ने भारत का मजाक बनाया है और भारत का एक खराब परिदृश्य से दिखाने की कोशिश की है। शशि थरूर कहते हैं कि भारत की सरकार कोविड के मैनेजमेंट में कहीं कहीं फेल हो रही है। भारत की मीडिया पोल के जरिए दिखा रही है कि जनता-जर्नादन मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट है।

संबित पात्रा ने कहा कि सोनिया जी, राहुल जी, प्रियंका जी, शशि थरूर जी से हम पूछना चाहते हैं कि एक बार भी आपने पाकिस्तान से पूछने की हिम्मत की कि पाकिस्तान किस प्रकार से कट्टरता दिखाता है। किस प्रकार से अपने अल्पसंख्यकों के प्रति हिंसा और अराजकता दिखाता है अपने अल्पसंख्यकों के प्रति?

उन्होंने कहा कि 50 देशों को हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन पहुंचाने का काम मोदी सरकार ने किया, फिर भी सरकार के खिलाफ बयानबाजी की जाती है। जबकि हकीकत यह है कि कोविड को लेकर पूरा विश्व देख रहा है कि हिंदुस्तान को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किस प्रकार से सुरक्षित रखा, समय से लॉकडाउन हुआ, किस प्रकार 80 करोड़ लोगों को खाद्यान्न पहुंचाने का काम किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *