वरुण गांधी ने एक बार फिर खुद की पार्टी को घेरा, कहा- लखीमपुर हिंसा को हिंदू बनाम सिख बनाया जा रहा

वरुण गांधी ने कहा है कि इस मामले को हिंदुओं और सिखों के बीच युद्ध के तौर पर पेश किया जा रहा है, जो खतरनाक है।

भारतीय जनता पार्टी के सांसद वरुण गांधी एक बार फिर से अपने ही पार्टी को घेरते हुए नज़र आ रहे हैं. आपको बता दें कि वरुण गांधी ने एक बार फिर से बागी तेवर अपनाते हुए पार्टी से इतर अपनी राय रखी है। लखीमपुर में हुई हिंसा को लेकर वरुण गांधी ने कहा है कि इस मामले को हिंदुओं और सिखों के बीच युद्ध के तौर पर पेश किया जा रहा है, जो खतरनाक है। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा हो रहा है तो यह गलत नैरेटिव है।

varun gandhi

वहीँ वरुण गांधी ने नसीहत देते हुए कहा कि नेताओं को अपने छोटे स्वार्थों को सिद्ध करने के लिए राष्ट्रीय एकता को दांव पर नहीं लगाना चाहिए। हालांकि वरुण गांधी ने ऐसे किसी नेता या शख्स का नाम नहीं लिया, जो ऐसा कर रहा हो। वरुण गांधी ने ट्वीट किया, ‘लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के मामले को हिंदू बनाम सिख युद्ध के तौर पर प्रोजेक्ट करने के प्रयास चल रहे हैं। यह अनैतिक रूप से गलत है और भ्रमित करने वाला नैरेटिव है। इस तरह की चीजों से खेलना खतरनाक है। इससे एक बार फिर से जख्म उभर सकते हैं, जिन्हें भरने में लंबा वक्त लगा है। हमें क्षुद्र राजनीतिक हितों के लिए राष्ट्रीय एकता को दांव पर नहीं लगाना चाहिए।’

आपको बता दें कि इससे पहले भी कई बार वरुण गांधी भाजपा के विपरीत अपनी राय जताते रहे हैं। लखीमपुर खीरी कांड को दोषियों को सजा दिए जाने की मांग करते हुए उन्होंने सीएम योगी को पत्र लिखा था। यही नहीं वरुण गांधी ने इससे पहले भी किसानों की मांगों का समर्थन करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ को खत लिखा था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *