सवेरे सवेरे देश के लिए आई बहुत बुरी खबर, अनलॉक हुआ कैंसिल दोबारा लगा लॉकडाउन

प्रदेश सरकार ने बीते हफ्ते कहा था कि इस साल अप्रैल के महीने में लगाए गए प्रतिबंध 15 जून तक लागू रहेंगे।

महाराष्ट्र॥ राज्य की हुकूमत ने गुरूवार शाम साफ किया कि प्रदेश में कोरोना सम्बन्धी पाबन्दी कहीं पर भी समाप्त नहीं की गई है। इससे पहले, प्रदेश के मंत्री विजय वडेट्टीवार ने पाबन्दियों में ढील की घोषणा की थी। मगर ऐसा नहीं हुआ है।

Lockdown in Uttarakhand

सीएम दफ्तर ने इस संबंध में एक बयान जारी कर कहा कि कई इलाकों में पाबन्दियों में छूट देने पर विचार किया जा रहा है, मगर इस बारे में अब तक कोई अंतिम कदम नहीं उठाया गया है। आपदा प्रबंधन मंत्री विजय वडेट्टीवार (Vijay Wadettiwar) ने अपनी घोषणा के बारे में स्पष्टीकरण देते हुए बाद में कहा कि पाबन्दियों को चरणबद्ध तरीके से हटाने को मंजूरी प्रदान कर दी गयी है, मगर अब तक कोई अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।

इससे पहले, मिनिस्ट ने मीडिया से कहा था कि प्रदेश के 36 में से 18 ऐसे जनपदों में अब पाबन्दियों में ढील दी जाएगी जहां संक्रमण की दर पांच प्रतिशत अथवा उससे कम है और अस्पतालों में ऑक्सीजन की सुविधा वाले 75 प्रतिशत बिस्तर खाली हों। मिनिस्टर ने प्रदेश आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की बैठक के बाद संवाददाता सम्मेलन का आयोजन कर यह घोषणा की थी।

सीएम दफ्तर ने बयान में कहा कि कोरोना आपदा पर अब तक पूरी तरह से कंट्रोल नहीं पाया जा सका है, इसलिए सरकार ने पाबन्दियों में ढील देने का कोई निर्णय नहीं लिया है।

भाषण में बताया गया कि प्रदेश के कुछ ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति बेहद गंभीर बनी हुई है…प्रदेश में पाबंदी पूरी तरह खत्म नहीं हुई है। प्रदेश सरकार ने बीते हफ्ते कहा था कि इस साल अप्रैल के महीने में लगाए गए प्रतिबंध 15 जून तक लागू रहेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *