कब हैं दुर्गा अष्टमी, महा नवमी और पापांकुशा एकादशी व्रत, जानिए डेट

हिन्दू पंचांग के अनुसार इस सप्ताह 12 से 18 अक्टूबर तक हर दिन कोई न कोई पर्व है। या यूं कहे अक्टूबर का लगभग पूरा महीना त्योहार के तौर पर...

हिन्दू पंचांग के अनुसार इस सप्ताह 12 से 18 अक्टूबर तक हर दिन कोई न कोई पर्व है। या यूं कहे अक्टूबर का लगभग पूरा महीना त्योहार के तौर पर ही बीतता। पहले नवरात्रि फिर दशहरा इसके बाद 24 अक्टूबर को करवा चौथ। ये सारे पर्व हर साल अक्टूबर में ही मनाये जाते हैं। आइये आपको बताते हैं इस सप्ताह यानी 12 से 18 अक्टूबर तक में कौन-कौन से पर्व पड़ रहे हैं।

DURGA ASHTAMI

12 से 18 अक्टूबर 2021 तक के व्रत और त्योहार

12 अक्टूबर दिन मंगलवार को आश्विन शुक्ल सप्तमी रात्रि 9.48 बजे तक इसके बाद अष्टमी पड़ रही हैं। मूल नक्षत्र में सरस्वती देवी का आह्वान करें।

13 अक्टूबर दिन बुधवार को आश्विन शुक्ल अष्टमी रात्रि 8.08 बजे तक इसके बाद नवमी लग जाएगी। इस दिन श्री दुर्गाष्टमी व्रत हैं।

14 अक्टूबर दिन गुरूवार को आश्विन शुक्ल नवमी सायं 6.53 बजे तक इसके बाद दशमी। श्री दुर्गा नवमी व्रत, नवमी का हवन, शास्त्रादि पूजन आदि इसी दिन किया जायेगा।

15 अक्टूबर दिन शुक्रवार को आश्विन शुक्ल दशमी सायं 6.03 बजे तक तदनंतर एकादशी। पंचक प्रारम्भ रात्रि 9.16 बजे से। श्रवण नक्षत्र में सरस्वती देवी का विसर्जन, श्री विजयदशमी, विजय मुहूर्त मध्याह्न 1.52 बजे से मध्याह्न 2.35 बजे तक, शमी पूजा और अपराजिता पूजा इस दिन करें।

16 अक्टूबर दिन शनिवार को आश्विन शुक्ल एकादशी सायं 5.38 बजे तक तदनंतर द्वादशी, पापांकुशा एकादशी व्रत और भरत मिलाप होता है।

17 अक्टूबर दिन रविवार को आश्विन शुक्ल द्वादशी सायं 5.40 बजे तक, उसके बाद त्रयोदशी, सूर्य की तुला संक्रांति मध्याह्न 1.12 बजे से शुरू हो जाएगी।

18 अक्टूबर दिन सोमवार को आश्विन शुक्ल त्रयोदशी सायं 6.08 बजे तक, उसके बाद चतुर्दशी, सौर (तुला) कार्त्तिक मास प्रारम्भ हो जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *