बॉल पेन के ढक्कन में क्यों है ये छोटा सा छेद, जानिए वजह!

नई दिल्ली: हमारे बचपन की कई ऐसी बातें हैं जो हमसे कभी अलग नहीं हो सकतीं। आज तक आपने अपने बचपन की कई ऐसी चीजें रखी होंगी, जिन्हें आप जीवन भर रखना चाहते हैं। किसी को अपने बचपन के खेल के खिलौने याद हैं तो किसी को दादी-नानी के किस्से याद हैं। लेकिन एक बात जो सभी को याद रहती है वो है बॉल पेन। आपने खुद बॉल पेन का इस्तेमाल किया होगा और फिर उसे खो दिया होगा। इस बात को कोई भी भूल सकता है।

कई बार हम सभी होमवर्क करने के लिए बॉल पेन का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्या कभी किसी ने सोचा है कि इस बॉल पेन के ऊपर एक छोटा सा छेद क्यों होता है? इसी के बारे में आज हम आपको बता रहे हैं।

इसका कारण यह है कि वास्तव में छोटे बच्चे अक्सर पढ़ते समय पेन से लिखते समय पेन का ढक्कन अपने मुंह में रख लेते हैं और कभी-कभी गलती से उसे निगल जाते हैं। ऐसे में यह ढक्कन अंदर जाकर सांस की नली में फंस जाता है। लेकिन पेन के ढक्कन की अच्छी बात यह है कि जब ढक्कन में छेद होता है तो सांसों का प्रवाह चलता रहता है और सांस रुकती नहीं है।

अगर यह छेद न हो तो ढक्कन के गले में फंसने से किसी की भी मौत हो सकती है। यही कारण है कि पेन कंपनियां बॉल पेन के ढक्कन में छेद कर देती हैं ताकि गले में फंसने के बाद यह सांस के प्रवाह को अवरुद्ध न करे।