कोरोना पर बड़ा वार करने की तैयारी में सीएम योगी, अब 1.50 लाख लोगों के साथ रोज होगा ये

CM योगी ने कहा, फोकस टेस्टिंग करते हुए प्रतिदिन किए जाएं 1.50 लाख टेस्ट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए लोगों को ‘एसएमएस’ के प्रति जागरूक किए जाने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा है कि ‘एस’ अर्थात सोप-सेनिटाइजर, ‘एम’ अर्थात मास्क तथा ‘एस’ अर्थात सोशल डिस्टेंसिंग कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में अत्यन्त उपयोगी हैं। इसलिए जनता को इसे अपनाने के लिए निरन्तर जागरूक किया जाए।

CM Yogi

मुख्यमंत्री ने शुक्रवार को यहां अपने सरकारी आवास पर एक उच्चस्तरीय बैठक में कहा कि जब तक कोरोना की कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन उपलब्ध नहीं हो जाती तब तक पूरी सतर्कता और सावधानी बरतना अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने निर्देश दिए कि फोकस टेस्टिंग करते हुए प्रतिदिन कोरोना के 1.50 लाख टेस्ट किए जाएं।

उन्होंने आगामी पर्वों के मद्देनजर विभिन्न कारोबारी समूहों के कोरोना के फोकस टेस्टिंग कार्य को प्रभावी ढंग से संचालित करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि आगामी समय में डेंगू की सम्भावना के दृष्टिगत संचारी रोगों के नियंत्रण के लिए कार्यवाही तेजी से जारी रखी जाए।

उन्होंने कहा कि सेनिटाइजेशन तथा फाॅगिंग का कार्य पूरी सक्रियता से किया जाए। पब्लिक एड्रेस सिस्टम को क्रियाशील रखते हुए लोगों को कोविड-19 तथा संचारी रोगों से बचाव की जानकारी दी जाए। उन्होंने जनपद कानपुर नगर, मेरठ, बस्ती तथा वाराणसी में कोविड-19 की रिकवरी दर को बेहतर करने के लिए उपचार व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कामगारों और श्रमिकों की सामाजिक एवं आर्थिक सुरक्षा तथा उनके सर्वांगीण विकास के उद्देश्य से राज्य सरकार ने ‘उत्तर प्रदेश कामगार और श्रमिक (सेवायोजन एवं रोजगार) आयोग’ गठित किया है। आयोग के निर्देशों के क्रियान्वयन एवं मॉनिटरिंग के लिए जिला स्तर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय समीति गठित की गई है। सभी जनपदों में समीति की बैठक आयोजित किए जाने के निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि इसके पश्चात वे स्वयं राज्य स्तर पर इस सम्बन्ध में समीक्षा करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘मिशन शक्ति अभियान’ के अन्तर्गत किए जा रहे जन-जागरूकता कार्यों के बेहतर परिणाम मिल रहे हैं। इसके माध्यम से समाज में एक सकारात्मक दृष्टिकोण विकसित हो रहा है। इसलिए ‘मिशन शक्ति अभियान’ के तहत जागरूकता का कार्य 15 नवम्बर तक जारी रखा जाए।

उन्होंने निर्देश दिए कि आगामी शीत ऋतु के दृष्टिगत राजस्व विभाग द्वारा समय से कम्बल खरीदने की कार्यवाही सुनिश्चित की जाए, ताकि निराश्रितों व्यक्तियों को इनका यथा समय वितरण किया जा सके। उन्होंने कहा कि सभी एक्सप्रेस-वे पर निर्माण कार्य तेजी से किया जाए, जिससे यह परियोजनाएं समय से पूर्ण की जा सकें। उन्होंने गंगा एक्सप्रेस-वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण की कार्यवाही करने के निर्देश दिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *