… जब रिश्वत के 40 लाख रुपए को कर दिया सार्वजनिक, तो चौंक गये लोग

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

मुंबई।। महाराष्ट्र मुक्ति मोर्चा के कार्यकर्ता संदीप ने कल एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मुंबई के पूर्वी उपनगर के विक्रोली इलाके में स्लम रिहैबिलिटेशन अथॉरिटी की योजना में हुआ घोटाला उजागर नहीं करने के लिए ‘वोट पार्टी’ देने के लिए मशहूर एक बिल्डर ने उसे 11 करोड़ रुपए रिश्वत की पेशकश की।

भाजपाई नेता ने सफाई कर्मचारी को मारे थप्पड़ इस तरह बिगड़े हालात

महाराष्ट्र के सामाजिक कार्यकर्ता संदीप येवले ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में टेबल पर नोटों की गडि्डयां बिछाते हुए यह दावा कर दिया। मुंबई के एक बिल्डर के रिश्वत में से पैसे बचे है। संदीप ने दावा किया कि घोटाले की जानकारी निकालने और गरीबों को न्याय दिलाने में यह रकम खर्च हुई। इसके बाद 40 लाख रुपए की दूसरी किश्त मिली।

महिला मजिस्ट्रेट ने ऑफिस में लगाया झाडू, सीएम योगी कर सकते है सम्मानि

संदीप के मुताबिक, उन्हें ओमकार रियल्टर्स के बाबूलाल वर्मा और दूसरे बिल्डर्स ने घूस दी। उन्होंने कहा कि सरकार इजाजत दे तो वह रिश्वत की यह रकम मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा करने को तैयार हैं। वह इसे आदिवासियों के लिए काम करने वाले एनजीओ को भी देने के इच्छुक हैं।

TCS के लखनऊ छोड़ने से 2000 से अधिक कर्मचारी हो जाएंगे बेरोजगा

संदीप ने कहा कि रिश्वत की पहली किस्त में मिले 60 लाख रुपए एसआरए की लड़ाई में 260 घरों को न्याय दिलाने पर खर्च हुए। इसमें से कुछ पैसे बचे हैं। 260 घरों को तोड़ने का नोटिस जारी हुआ था। इसे रुकवाने के लिए एक-एक घर के पीछे 5-5 हजार रुपए खर्च किए। उनके खिलाफ झूठा मामला दर्ज हुआ तो अग्रिम जमानत पर 50 हजार रुपए खर्च किए।

बदमाशों ने दिन दहाड़े बिजनेस मैन की पत्नी को बेडरूम में घुसकर मार डाला

संदीप कहते हैं कि सरकार बड़े-बड़े पूंजीपतियों का लोन माफ करती है। लिहाजा गरीबों के न्याय की लड़ाई पर पहली किस्त की जो रकम खर्च हुई है, वह माफ करे।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

http://upkiran.org/3790

Related News