24 घंटों के अंदर 9 किसानों ने दे दी जान, केंद्र सरकार ने कर्जमाफी को कहा फैशन

img

www.upkiran.org

यूपी किरण ब्यूरो

महाराष्ट्र/भोपाल।। कर्ज से दबे मजबूर किसानों की आत्महत्या का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र और केरल में बीते चौबीस घंटों में कर्ज से दबे नौ और किसानों ने जान दे दी।

मध्य प्रदेश के सागर, छतरपुर, छिंदवाड़ा और सीहोर में किसानों के खुदकुशी करने की खबरें हैं। चंदवड में दो और बगलान में भी एक किसान ने जान दे दी।Image result for 24 घंटों के अंदर 9 किसानों ने दे दी जान, उस्मानाबाद में एक किसान के बेटे ने स्कूल के लिए नई किताबें न मिलने पर जान दे दी। केरल में भी एक किसान के आत्महत्या करने की खबर है।महाराष्ट्र के मालेगांवमें एक किसान ने घर में ही अपनी चिता बनाकर आग लगा ली।

मंत्री के बयान पर विवाद, दी सफाई

केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू के उस बयान पर विवाद हो गया, जिसमें उन्होंने कहा था कि कर्ज माफी की मांग करना इन दिनों फैशन बन गया है। इस बारे में कठिन हालात में ही सोचा जाना चाहिए। बाद में नायडू ने सफाई दी कि वह राजनीतिक दलों के फैशन की बात कर रहे थे।गुरुवार को देश में 9 किसानों की आत्महत्या की खबर ने सभी को हैरान कर दिया। वहीं महाराष्ट्र में किसानों का उग्र प्रदर्शन देखने को मिला। इस प्रदर्शन में 10 जिलों के किसान शामिल हुए थे।

फोटोः फाइल

इसे भी पढ़ें

http://upkiran.org/3790

http://upkiran.org/4212

 

 

Related News