अरुणाचल प्रदेश को लेकर चीन ने फिर दिखाई हिमाकत, भारत बोला- कोई फर्क नहीं पड़ता

img

भारत के अभिन्न अंग अरुणाचल प्रदेश पर दावा करते हुए चीन ने उस राज्य में जगहों को 30 नए नाम दिए हैं। चीन अब तक ऐसे नए नामों की चार लिस्ट जारी कर चुका है। चीन ने पिछले कुछ हफ्तों में अरुणाचल प्रदेश का मुद्दा उठाकर कई चालें चली हैं। भारत ने चीन के दावों को खारिज कर दिया है।

भारत ने कहा है कि चीन अरुणाचल प्रदेश को लेकर चाहे कितनी भी शिकायत कर ले, लेकिन इससे तथ्य नहीं बदलेंगे। अरुणाचल भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा। अत: चीन द्वारा उस राज्य के स्थानों को दिये गये नये नाम अर्थहीन हो जाते हैं।

चीन ने अरुणाचल प्रदेश का नाम झांगनान रखा है और दावा किया है कि ये दक्षिणी तिब्बत का क्षेत्र है। इस संबंध में चीन के नागरिक मामलों के मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर अरुणाचल प्रदेश में स्थानों के 30 और नए नाम प्रकाशित किए हैं। चीन ने ये भी दावा किया है कि ये नए नाम 1 मई से लागू हो जाएंगे।

बता दें कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश पर अपना अधिकार जताते हुए वहां छह जगहों को नए नाम देने पर जोर दिया। उस देश ने 2017 में ऐसी पहली सूची प्रकाशित की थी। 2021 में प्रकाशित दूसरी सूची में 15 स्थान और 2023 में प्रकाशित तीसरी सूची में 11 स्थानों पर चीन ने नए नाम दिए, भारत को पछाड़ दिया। अब उस देश ने चौथी लिस्ट जारी कर दी है।

Related News