इस मुस्लिम देश ने बनाई अमेरिका से 4 गुना ज्यादा घातक मिसाइल, भारत की बढ़ेंगी मुश्किलें

img

मुस्लिम देश में शुमार तुर्की ने अपनी नई एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का निर्माण किया है। इस हथियार ने अपने टेस्टिंग में 16 किलोमीटर से ज्यादा की रेंज हासिल की है। इसे हथियार बनाने वाली कंपनी रोकेटसन ने बनाया है। ये मिसाइल 6 अहम रूसी, अमेरिकी एटीजीएम मिसाइल सिस्टम की परिचालन रेंज की तुलना में अधिक पहुंच रखती है।

तुर्की की ये मिसाइल इसलिए भी स्पेशल है क्योंकि इसकी मारक क्षमता सबसे ज्यादा होने के अलावा यह ऐसी टेकनिक है, जो हवा, जमीन और नौसैनिक प्रणालियों के लिए भी यूज होती है। इस तकनीक को तुर्की ने हाल के कुछ वर्षों में ही तैयार किया है।

हथियार बनाने वाली कंपनी की ओर से जारी इस मिसाइल परीक्षण के प्रमोशनल वीडियो में 16 किलोमीटर की दूरी पर इसे टारगेट को भेदते हुए दिखाया गया है। LUMTAS-GM मिसाइल का वेट 41.3 किलोग्राम है, इसकी लंबाई 1.72 मीटर है, और हेलीकॉप्टर से दागे जाने पर यह 16 किलोमीटर के टारगेट को पार करके 20 किमी तक जा सकती है।

आपको बता दें कि तुर्की का ये हथियार हिंदुस्तान के लिए भी टेंशन की वजह बन सकती है। दरअसल, तुर्की और पाकिस्तान में निरंतर सैन्य साजो सामान के सौदे हो रहे है। हाल ही में पाकिस्तान के तुर्की से एंटी-टैंक गाइडेड हथियार सिस्टम (एटीजीडब्ल्यू) खरीदने की बात सामने आई है। पाकिस्तान को ये हथियार मिलेगा। ऐसे में संदेह है कि पाकिस्तान इसका इस्तेमाल हिंदुस्तान को नुकसान पहुंचाने में कर सकता है।
 

Related News