हाथरस मामले में गलत बयाानी कर रहे हैं एडीजी लॉ आर्डर, पीआईएल में पेश की जाएंगी अनियमितताएं

एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर ने हाथरस मामले में एडीजी लॉ आर्डर द्वारा दुष्कर्म की घटना नहीं होने विषयक बयान को सरकार की गलतबयानी बताया है

लखनऊ, 02 अक्टूबर यूपी किरण। एक्टिविस्ट डॉ. नूतन ठाकुर ने हाथरस मामले में एडीजी लॉ आर्डर द्वारा दुष्कर्म की घटना नहीं होने विषयक बयान को सरकार की गलतबयानी बताया है।
     
उन्होंने इस प्रकरण में अब तक की गयी अनियमितताओं को इलाहाबाद हाई कोर्ट द्वारा स्वतः संज्ञान लिए गए पीआईएल में भी प्रस्तुत करने की बात कही है।।
उन्होंने शुक्रवार को कहा कि एडीजी ने मात्र कुछ साक्ष्यों की मनमानी व्याख्या करते हुए ऐसा निष्कर्ष निकाला है, जबकि पहले स्वयं पुलिस ने ही तथ्यों एवं साक्ष्यों के आधार पर धारा 376डी (गैंग रेप) की बढ़ोत्तरी की थी। उन्होंने कहा कि यदि पुलिस के पास पहले से ही पीड़ित तथा उसकी मां का वीडियो मौजूद था तो फिर मेडिकल रिपोर्ट के लिए रुके बिना दुष्कर्म की धारा क्यों बढ़ाई गई।
नूतन ने कहा कि इससे साफ है कि सरकार इस मामले में लीपापोती कर रही है। उन्होंने एडीजी द्वारा शासन को बदनाम करने वालों पर कार्रवाई करने के कथन को पुलिस राज की वापसी बताया। नूतन ने कहा कि वे इस मामले में सरकार एवं उसके अफसरों द्वारा अब तक की गयी अनियमितताओं को इलाहाबाद हाई कोर्ट द्वारा स्वतः संज्ञान लिए गए पीआईएल में भी प्रस्तुत करेंगी।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *