CAA वापस लेने को लेकर अमित शाह किया अब तक का सबसे बड़ा ऐलान, विरोध करने वालों को नहीं हो रहा यकीन

उत्तर प्रदेश॥ CAA के लेकर होम मिनिस्टर अमित शाह ने ऐसा ऐलान कर दिया है कि विरोध करने वालों की आंखें फंटी की फंटी रह गई हैं। दरअसल, मंगलवार को उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह एक रैली को संबोधित किया।

होम मिनिस्टर ने कहा कि मोदी जी CAA लेकर आये और इसके विरूद्ध राहुल बाबा एंड कंपनी, ममता, अखिलेश, बहन मायावती ये सारी की सारी ब्रिगेड CAA के विरूद्ध काव-काव-काव करने लगी। कांग्रेस जब थी, तब तक अयोध्या में श्री राम मंदिर बनने नहीं दिया। मोदी जी को आपने चुना तो तीन महीने में गगनचुम्बी रामलला मंदिर बनने जा रहा है।

होम मिनिस्टर शाह ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि यह ‘जन जागरण अभियान’ दुष्प्रचार करने वालों के विरूद्ध लोगों के जागृति अभियान है। CAA के विरूद्ध दुष्प्रचार प्रचार किया जा रहा है कि इस बिल से मुस्लिमों की नागरिकता चली जाएगी। मैं चुनौती देता हूं कि मंच आप चुन लीजिये मैं इस मुद्दे पर बहस के लिये तैयार हूं।

होम मिनिस्टर अमित शाह ने कहा कि अफगानिस्तान और पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर जुल्म हो रहा है। आफगानिस्तान और पाकिस्तान तो दूर की बात उनको अपने देश कश्मीर में लोगों पर अत्याचार दिखाई नहीं दे रहा है। मैं आज डंके की चोट पर कहने लखनऊ आया हूं कि जिसको जो करना है कर ले CAA वापस नहीं होने वाला है।

पढ़िए-पढ़िए-CAA को लेकर गुस्से में नसीरुद्दीन शाह, मुस्लिमों से कह दी इतनी बड़ी बात

होम मिनिस्टर ने कहा कि गांधी जी ने कहा था कि पाकिस्तान के हिंदू जब चाहें भारत आ सकते हैं। नेहरू जी ने भी यही कहा था। इंदिरा गांधी ने भी कहा था कि बांग्लादेश के अल्पसंख्यकों शारण देने की वकालत की थी, लेकिन यह कांग्रेस सुनना नहीं चाहती है। उन्होंने कहा कि मैं ममता दीदी से कहना चाहता हूं जो बंगाली पीड़ित बाहर से आए हैं उनको नागरिकता देने में आपको तकलीफ क्या है।

फोटो- फाइल

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *