किसी वरदान से कम नहीं है, आंवला का सेवन, जानिये चौंकाने वाले फायदे…

आयुर्वेद में आंवले को एक औषधि के रूम में माना जाता है। आंवले में विटामिन सी, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, विटामिन बी, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं।

नई दिल्ली। आयुर्वेद में आंवले को एक औषधि के रूम में माना जाता है। आंवले में विटामिन सी, कैल्शियम, फास्फोरस, आयरन, कैरोटीन, विटामिन बी, फाइबर और कार्बोहाइड्रेट जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। आंवले को पोषक तत्वों का राजा माना जाता है। आंवले में वो सभी जरूरी मिनरल्स और विटामिन्स पाए जाते हैं जो शरीर को ना सिर्फ स्वस्थ रखते हैं बल्कि कई तरह की बीमारियों को भी बचाने का काम करते हैं। आंवले को डाइट में कई तरीके से शामिल किया जा सकता है। आप इसे कच्चा खा सकते हैं, इसका जूस पी सकते हैं या फिर अचार या जैम बनाकर भी खा सकते हैं। आंवला हर रूप में आपको फायदा पहुंचाने वाला है। तो आइये जानते हैं इससे होने वाले फायदों के बारे में…

इम्यूनिटी को करे दुरूस्त…

विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट्स हमारी इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करते हैं। आंवला कैंडी एक ऐसी रेसिपी है जिसे आंवला, गुड़ और सेंधा नमक की मदद से बनाया जाता है। खाने के बाद दो या तीन कैंडी को स्वास्थ्य लाभ के हिसाब से खाया जा सकता है।

पाचन को सुधारे…

पाचन संबंधी समस्याओं के लिए आंवला रामबाण की तरह है।  एक गिलास गर्म पानी में एक टी स्पून आंवला पाउडर का इस्तेमाल इसमें राहत दे सकता है. एसिडिटी और पाचन की समस्या भी आंवला की मदद से कंट्रोल की जा सकती है। जिन लोगों को पेट में अल्सर की समस्या है वो भी आंवला का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये पेट के लिए बेहतरीन दवा की तरह है।

डायबिटिक मरीजों के लिए रामबाण…

डायबिटिक मरीजों के लिए आंवला बेहद फायदेमंद होता है। इसमें क्रोमियम की मात्रा अच्छी होती है जो इंसुलिन को रेस्पोंड करने में मदद करता है। ज्यादातर लोगों का शरीर सही मात्रा में इंसुलिन पैदा तो करता है लेकिन उनकी सेल्स इसको लेकर इन्सेन्सिटिव होती हैं। इस अवस्था को इंसुलिन इन्सेन्सिविटी कहा जाता है। शरीर में क्रोमियम की मात्रा जो कि आंवला से मिलती है, सेल्स की इंसुलिन के प्रति सेन्सिविटी बढ़ती है। ये डायबिटिक मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद है। ऐसे में अपने शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए डायबिटिक डाइट में आंवला को जरूर इस्तेमाल करें।

हीमोग्लोबिन करे बेहतर…

आंवला और गुड़ के कॉम्बिनेशन का इस्तेमाल हीमोग्लोबिन के लेवल को बेहतर करने में किया जा सकता है। इन दोनों में ही बेहतरीन स्वास्थ्य लाभों वाले तत्व हैं। इन दोनों का कॉम्बिनेशन शरीर में रेड ब्लड सेल्स की मात्रा को भी बढ़ाता है।

बालों के लिए आंवला के फायद…. 

  • अगर बाल समय से पहले सफेद होने लगे हैं, तो आंवले और तुलसी के पत्तों को पीसकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को एक कप पानी में घोलकर बालों की जड़ों में लगाएं और सूखने पर बालों को ताजे पानी से धो लें। जल्दी ही सफेद बालों से राहत मिल जाएगी।
  • झड़ते बालों को रोकने के लिए सूखे आंवले को उबालकर उसका पेस्ट बना लें। हफ्ते में कम से कम एक बार इस पेस्ट को बालों और उसकी जड़ों में अच्छी तरह लगाएं। जल्दी बाल झड़ना बंद हो जाएंगे।
  • बालों में चमक लाने के लिए आंवला के जूस से अच्छी तरह मसाज करें। एक घंटे के बाद बालों को ताजे पानी से धो लें। इससे बालों में नेचुरल चमक आएगी।
  • अगर बाल बेहद सूखे और पतले हैं तो रोजाना बाल धोने से पहले आंवला के तेल से अच्छी तरह मालिश करें।
  • आंवले का तेल बालों के लिए एक बेहतरीन कंडीशनर का काम करता है। इससे बाल काले, घंने और चमकदार बनते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *