अर्जुन कपूर ने बयां किया दर्द, कहा- कभी नहीं भूलना चाहिए मां के प्यार और कठिनाइयों को

अभिनेता अर्जुन कपूर अक्सर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं और आपनी जिंदगी से जुड़े किस्से फोटोज और वीडियोज फैंस के साथ शेयर...

मुंबई। अभिनेता अर्जुन कपूर अक्सर सोशल मीडिया पर एक्टिव रहते हैं और आपनी जिंदगी से जुड़े किस्से फोटोज और वीडियोज फैंस के साथ शेयर करते रहते हैं।अर्जुन कभी-कभी सोशल मीडिया पर कुछ प्रेरणादायी चीजे भी शेयर करते हैं। अभिनेता ने जापानी फिलोस्फर दायसाकु इकेदा के विचारों को अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर साझा किया और लोगों से अपील की कि वह कभी भी अपनी मां के प्यार और उनकी कठिनाइयों को न भूलें। इसके साथ ही उन्होंने अपने उस दुःख को भी साझा किया जो उन्होंने अपनी मां मोना कपूर की मौत के बाद झेला था।

ARJUN KAPOOR
बता दें कि अर्जुन कपूर  अपनी मां मोना कपूर से काफी अटैच थे, लेकिन 25 मार्च साल 2012 में कैंसर से उनका निधन हो गया था। अपने उन दिनों को याद करते हुए अर्जुन कपूर (Arjun Kapoor) ने पिंकविला को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि वह आज भी अपनी मां को नहीं भूले। उन्होंने बताया कि जब वह बॉलीवुड में डेब्यू करने वाले थे उसके ठीक 45 दिन पहले ही उनकी मां का देहांत हो गया था।

अर्जुन बताते हैं कि मां की मौत के बाद वह बिल्कुल टूट गये थे। उस समय उन्हें संभालने वाला कोई नहीं था। ऐसे में उनकी छोटी बहन अंशुल ने उनको संभाला और हर तरह से ध्यान रखा। अर्जुन कपूर ने कहा कि मां को खोने का दुःख क्या होता है वह अच्छी तरह से जानते हैं, यहीं वजह है कि जब श्रीदेवी की मौत हुई थी तब वह अपनी दोनों बहनों जाह्नवी और ख़ुशी कपूर के साथ उनके दुःख में खड़े रहे और हर कदम पर उनको सपोर्ट किया।

उन्होंने बताया कि वह नहीं चाहते थे कि मां की मौत का जो दर्द उन्होंने झेला वह उनकी दोनों बहने जाह्नवी और ख़ुशी भी झेलें। अर्जुन कपूर को आज भी उनकी मां का निधन एक डरावने सपने जैसा ही लगता है। अर्जुन कपूर अपनी बहन अंशुला के साथ रहते हैं। जबकि उनके पापा बोनी कपूर श्रीदेवी की दोनों बेटियों जाह्नवी और ख़ुशी के साथ रहते हैं।
गौरतलब है कि अर्जुन कपूर के पिता बोनी कपूर ने उनकी मां मोना कपूर को तलाक देकर श्रीदेवी से शादी रचा ली थी। श्रीदेवी और बोनी कपूर की दो बेटियां है जिनका नाम जाह्नवी (Jahnav) और ख़ुशी कपूर है। जाह्नवी फिल्म इंडस्ट्री में जानी मानी अभिनेत्री हैं।