Arthritis: जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाना चाहते हैं तो खाने में जरूर शामिल करें ये चीजें

अर्थराइटिस (Arthritis) की समस्या होने पर लोगों को अक्सर जोड़ों में दर्द की शिकायत होने लगती है। कुछ लोगों को इस बीमारी में जोड़ों में सूजन आ जाती है...

अर्थराइटिस (Arthritis) की समस्या होने पर लोगों को अक्सर जोड़ों में दर्द की शिकायत होने लगती है। कुछ लोगों को इस बीमारी में जोड़ों में सूजन आ जाती है जिससे उनका उठना, बैठना और चलना तक दूभर हो जाता है। बढ़ती उम्र के साथ अर्थराइटिस और तकलीफ देने वाली बीमारी बन जाती है। अर्थराइटिस तीन तरह से होता है। ऑस्टियो अर्थराइटिस, रयूमेटॉइड अर्थराइटिस और गठिया।

Arthritis

वैसे तो अर्थराइटिस होने की कई वजह हो सकती है अधिकतर यह समस्या खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने से होती है. जब यूरिक एसिड जोड़ों में जमने लगता है तो अर्थराइटिस नाम की बीमारी होनी शुरू हो जाती है। हालांकि अगर खान-पान का ध्यान दिया जाए तो काफी हद तक इस बीमारी से बचा जा सकता है। अर्थराइटिस के मरीज को अपनी डाइट में इन 5 फलों को जरूर शामिल करना चाहिए। इससे जोड़ों के दर्द और सूजन में आराम मिलेगा.

अंगूर

अंगूर में प्रचुर मात्रा से एंटीऑक्सीडेंट्स और एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं। अंगूर खाने से अर्थराइटिस के मरीजों का दर्द और सूजन कम हो जाती है और उन्हें काफी हद तक राहत मिल जाती है। अर्थराइटिस के मरीजों को अपने खाने में अंगूर जरूर शामिल करना चाहिए। इसके साथ ही अंगूर के छिलके में रेस्वेट्रॉल नाम का एक खास एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो अर्थराइटिस के मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद साबित होता है।

संतरा

संतरा समेत अन्य सभी खट्टे फलों में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। अर्थराइटिस के मरीजों के लिए विटामिन सी काफी फायदेमंद होता है। विटामिन सी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट जोड़ों की सूजन घटाने में मदद करता है। ऐसे में अर्थराइटिस के मरीजों को संतरा, नींबू, मौसमी जैसे खट्टे फल भरपूर मात्रा में खाने चाहिए।

तरबूज (Arthritis)

अर्थराइटिस के मरीजों के लिए तरबूत बेहद फायदेमंद होता है। तरबूज में पाए जाने वाले लाइकोपीन में एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण के होते हैं। इसके साथ ही तरबूज में कैरोटेनॉइड बीट-क्रिप्टोजैन्थिन भी पाया जाता है जो अर्थराइटिस के मरीजों की सूजन और अन्य दूसरी तकलीफों को दूर करता है। तरबूज रयूमेटॉइड अर्थराइटिस के मरीजों लिए काफी लाभदायक होता है। तरबूज में पानी की मात्रा बहुत अधिक होती है।

चेरी (Arthritis)

अर्थराइटिस के मरीजों के लिए चेरी भी बेहद फायदेमंद होती है। चेरी में एंथोसायनिन एंटीऑक्सीडेंट के गुण प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके साथ ही इसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री गुण पाए जाते हैं। चेरी खाने से अर्थराइटिस के रोगियों की सूजन कम होती है और दर्द में भी आराम मिलता है। चेरी का जूस भी काफी लाभदायक होता है। ये धीरे-धीरे रोग को ठीक करने में मदद करता है।

एवोकाडो (Arthritis)

एवोकाडो विटामिन सी से भरपूर होता है। यह अर्थराइटिस के मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। एवोकाडो में माइक्रोन्यूट्रिएंट पाए जाते हैं जो सूजन को कम करने में मददगार होते हैं। एवोकाडो खाने से जोड़ों में होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है। साथ ही शुरुआती स्टेज के अर्थराइटिस को ठीक भी किया जा सकता है।

शारीरिक मानसिक और आध्यात्मिक विकार दूर करने के लिए सूर्य देव को करें प्रसन्न

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *