Gyanvapi Masjid पर असदुद्दीन ओवैसी ने कही ये बात- अब हम नहीं खोएंगे, इंशाअल्लाह कयामत तक रहेगी

असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने वाराणसी की ज्ञानवापी मस्जिद (Gyanvapi Masjid) में हिंदू पक्ष के सर्वे और दावे के खिलाफ विरोध दर्ज कराया है. उन्होंने कहा, जब मैं 20-21 साल का था, तब मुझसे बाबरी मस्जिद छीन ली गई थी। अब हम 19-20 साल के युवाओं के सामने फिर कभी कोई मस्जिद नहीं खोएंगे। उन्होंने कहा कि ज्ञानवापी एक मस्जिद थी और कयामत तक रहेगी।

Gyanvapi Masjid - Asaduddin Owaisi
जनसभा में नारे लगाते हुए ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने कहा, उन्हें संदेश मिलना चाहिए कि हम मस्जिद (Gyanvapi Masjid) नहीं खोएंगे. हम आपकी चाल जानते हैं। अब हम उन्हें दोबारा आपको काटने नहीं देंगे। ये एक मस्जिद है और इंशा अल्लाह यह कयामत तक रहेगी। हमारा काम हमारी मस्जिदों को आबाद रखना है। यह हमारी जिम्मेदारी है कि जब रमजान खत्म हो जाए तो मस्जिद के दरवाजे और दीवारें तरसती हैं कि रमजान में रोज आने वाले लोग कहां चले गए।

ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने आगे कहा, अगर हम अपने गांव की मस्जिदों को आबाद रखेंगे तो उन्हें यह संदेश जाएगा कि भारत का मुसलमान फिर से मस्जिद (Gyanvapi Masjid) खोने को तैयार नहीं है.

बता दें कि तीसरे दिन के सर्वे के बाद हिंदू पक्ष ने दावा किया है कि मस्जिद (Gyanvapi Masjid) के वजूखाना से शिवलिंग मिला है. दावे के मुताबिक यह शिवलिंग 12 फीट 8 इंच ऊंचा है। हिंदू पक्ष के वकील ने एक अदालत में एक आवेदन दायर कर क्षेत्र को संरक्षित करने की मांग की। कोर्ट ने इलाके को सील करने का आदेश दिया है. यहां किसी का भी प्रवेश प्रतिबंधित है। (Asaduddin Owaisi)

परमार्थ निकेतन में धामी ने रोपा रुद्राक्ष का पौधा, बोले- पर्यावरण को बचाने की हम सबकी जिम्मेदारी

Heat stroke in Hindi: आप भी इस चिलचिलाती गर्मी में लू से हैं परेशान तो आजमाएं ये अचूक घरेलू उपचार

Hell Like Cave: इस पाताल लोक जैसी गुफा में बना सकते हैं 40 मंजिला इमारत, पर्यटकों को भी करती है आकर्षित