देश भर में लगे चावल वाले ATM, यहां लॉकडाउन में ऐसे मिलता है मुफ्त चावल

नई दिल्ली ।। CORONA_VIRUS के कहर पर लगाम लगाने के लिए कई देशों में लॉकडाउन लगाया गया है जिसके चलते कई लोगों को खाने की परेशानियां हो रही हैं तो वहीं कई लोगों का रोजगार छिन गया है। ऐसे में एक देश ने जरूरतमंद लोगों की सहायता करने के लिए एक अनोखा तरीका निकाला है। इससे सोशल डिस्टेंसिंग बनी रहेगी साथ ही उन्हें पूरे दिन के लिए चावल भी मिल सकेगा।

वो देश है वियतनाम, जहां लॉकडाउन में खाने की दिक्कतों को देखते हुए ‘RICE_ATM’ (चावल देने वाली मशीनें) लगाई गई हैं जिससे कोई भी बैंक के एटीएम की तरह इस मशीन से फ्री में चावल निकाल सकता है। ये ‘RICE_ATM’ 24 घंटे काम करता है। वियतनम के एक बिजनेसमैन ने ‘RICE_ATM’ मशीन लगवाने की पहल की है ताकि लॉकडाउन के समय जरूरतमंद लोगों की सहायता की जा सके। ये पहल काफी हद कारगर भी साबित हो रही है।

पीएम मोदी के संबोधन से 3 घंटे पहले सोनिया गाँधी ने किया था ये काम, लोगों से कि ये अपील

बताया जा रहा है कि वियतनाम में अभी तक CORONA_VIRUS के 262 मामले सामने आए हैं। हलांकि अभी तक किसी व्यक्ति की मौत की सूचना नहीं मिली है। लेकिन 31 मार्च से पूरे देश में लॉकडाउन घोषित किया गया है। लोगों ने भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना शुरू कर दिया है। लॉकडाउन की वजह से छोटे-छोटे बिजनेस ठप हो गए हैं। वहीं, हजारों लोगों को अस्थायी रूप से काम से निकाल दिया गया है।

उत्तराखंड- जनाब चुनाव भी तो लड़ना है, इसलिए उठाया गया ये कदम

जानकारी के अनुसार, गुयेन थी ले नामक महिला के पति उन लोगों में से एक हैं जिन्होंने लॉकडाउन के चलते अपनी नौकरी खो दी है। उनका कहना है कि यह ‘राइस एटीएम’ बहुत सहायतागार साबित हो रहा है। चावल का एक बैग एक दिन के लिए पर्याप्त होता है। तीन बच्चों की मां गुयेन का कहना है कि हमें कुछ ही भोजन की आवश्यकता है। हमारे पड़ोसी कभी-कभी हमें कुछ बचा हुआ भोजन दे देते हैं नहीं तो हम नूडल्स खाकर गुजारा कर लेते हैं।

पढ़िएःCORONA फैलाने के चलते चीन को मिलेगी बड़ी सजा, विश्व भर से…

इस चावल के एटीएम से 1।5 किलो चावल निकलता है। ये एटीएम खासकर उन लोगों के लिए सहायतागार साबित हो रहा है जो लोग स्ट्रीट सेलर, हाउसकीपिंग, लॉटरी टिकट बेचने का काम करके पैसे कमाते हैं। ‘RICE_ATM’ की पहल व्यवसायी होआंग तुआन नामक व्यक्ति ने की है। उन्होंने इससे पहले मिन्ह सिटी के अस्पतालों को स्मार्ट डोरबेल दान की थी। राज्य के मीडिया के मुताबिक, हनोई, ह्यू और दानंग जैसे अन्य बड़े शहरों में भी इसी तरह के और भी ‘RICE_ATM’ लगाए गए हैं।