Central Prison: जेल में झड़प और मारपीट के बाद इतने कैदियों ने पी लिया साबुन का पानी, हुआ ये हाल

img

वडोदरा। गुजरात में वडोदरा में स्थित केंद्रीय कारागार परिसर  (Central Prison) में सात विचाराधीन कैदियों ने झड़प और मारपीट के बाद साबुन मिला पानी पी लिया। हालत बिगड़ने पर उन्हें अस्पताल में एडमिट कराया गया। वडोदरा पुलिस ने बताया कि विभिन्न आपराधिक मामलों में विचाराधीन कैदियों ने बुधवार शाम को हुई झड़प के दौरान जेलर के साथ ही मारपीट की। इसके बाद उन लोगों ने साबुन घोलकर पी लिया। वहीं पुलिस उपायुक्त (द्वितीय जोन) अभय सोनी का कहना है कि गुजरात आतंकवाद एवं संगठित अपराध नियंत्रण कानून के तहत तेल में बंद विचाराधीन कैदियों को बाहर से खाना मंगाने की इजाजत नहीं होती जबकि अन्य कैदियों को यह सुविधा मिलती है।

उन्होने बताया कि, ‘‘हमें मिली प्रारंभिक सूचना मिली कि जिन्हें यह सुविधा नहीं दी मिली थी वे दूसरे विचाराधीन कैदियों का टिफिन जबरन ले लेते हैं और उन्हें अपने पास रख लेते हैं। इस बारे में जब जेल प्राधिकारियों को पता चला तो उन्होंने इन कैदियों को अलग बैरक में भेजने की कोशिश की।’ अधिकारी ने बताया कि ‘‘इसी की बाद झड़प शुरू हो गयी और विरोध में सात कैदियों ने पानी में साबुन घोला और बड़ी मात्रा में इसे पी लिया।’’(Central Prison)

उन्होंने बताया कि विचाराधीन कैदियों (Central Prison)  ने जेलर के साथ भी मारपीट की। इसके बाद उनके खिलाफ दंगा करने, सरकारी कर्मचारी पर हमला करने, गैरकानूनी रूप से एकत्रित होने समेत अन्य धाराओं में रावपुरा पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज किया गया। सोनी ने बताया कि जिन सात कैदियों ने साबुन का पानी पी लिया था उन्हें बुधवार रात को ही वडोदरा के एसएसजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत में अब सुधार हो रहा है। (Central Prison)

Congress: RSS की तर्ज पर पार्टी का संचालन करेगी गांधी फैमिली, ऐसे रखेगी पूरा कंट्रोल

NIA Raid: उग्र हुआ PFI प्रदर्शन, केरल से तमिलनाडु तक हो रही तोड़फोड़, BJP कार्यालय पर भी हमला

Related News