कंपनियों ने की जीएसटी में इतने करोड़ रुपये की धोखाधड़ी, डीजीजीआई ने किया पर्दाफाश

जीएसटी खुफिया महानिदेशालय (डीजीजीआई) ने धोखाधड़ी से जुड़े मामले का पर्दाफाश किया है। माल एवं सेवा कर (जीएसटी)  की खुफिया शाखा  डीजीजीआई ने कुछ निर्यातक कंपनियों के धोखाधड़ी से इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) और नकद रिफंड के रूप में 61 करोड़ रुपये हथियाने का पर्दाफाश किया है

नई दिल्‍ली,  09 अक्‍टूबर यूपी किरण। जीएसटी खुफिया महानिदेशालय (डीजीजीआई) ने धोखाधड़ी से जुड़े मामले का पर्दाफाश किया है। माल एवं सेवा कर (जीएसटी)  की खुफिया शाखा  डीजीजीआई ने कुछ निर्यातक कंपनियों के धोखाधड़ी से इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) और नकद रिफंड के रूप में 61 करोड़ रुपये हथियाने का पर्दाफाश किया है। यह जानकारी एक आधिकारिक बयान में शुक्रवार को दी गई।

बयान के मुताबिक डीजीजीआई को ये खबर मिली थी कि कुछ निर्यातक कंपनियां फर्जी फर्मों के चालान पर इनपुट टैक्स क्रेडिट का गलत तरीके से फायदा उठा रही हैं,  जबकि उन्होंने ऐसी कोई खरीदारी नहीं की। आधिकारिक बयान में ये कहा गया है कि आईटीसी का फायदा उठाते हुए उसका इस्तेमाल निर्यात की गई वस्तुओं पर आईजीएसटी चुकाने के लिए हुआ,  जिस पर बाद में उसके नकद रिफंड का दावा किया गया। इस तरह सरकारी खजाने को दोहरा नुकसान पहुंचा।

डीजीजीआई ने बयान में कहा कि इस तरह हासिल की गई आईजीएसटी रिफंड की राशि लगभग 61 करोड़ रुपये है। डीजीजीआई ने इन निर्यात कंपनियों के नियंत्रकों और आपूर्ति करने वाली कंपनी के मालिक को गिरफ्तार कर लिया है। डीजीजीआई ने गिरफ्तारी के बाद उसे सक्षम कोर्ट में पेश किया,  जिसके बाद उसे 14 दिनों की न्‍यायिक हिरासत में जेल में भेज दिया गया। इस मामले में आगे जांच जारी है।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *