दिल्ली पुलिस ने नकली नोट के सप्लायर को किया गिरफ्तार, इन राज्यों में फैला हुआ था नेटवर्क

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने नकली भारतीय मुद्रा नोट (एफआईसीएन) के प्रचलन में शामिल एक अंतरराष्ट्रीय गिरोह का भंडाफोड़ किया है

नई दिल्ली, 9 जनवरी | दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ ने नकली भारतीय मुद्रा नोट (एफआईसीएन) के प्रचलन में शामिल एक अंतरराष्ट्रीय गिरोह का भंडाफोड़ किया है और राष्ट्रीय राजधानी में इसके प्रमुख आपूर्तिकर्ता को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने रविवार को यहां यह जानकारी दी। आरोपी की पहचान बिहार के मोतिहारी निवासी रायसुल आजम के रूप में हुई है।

पुलिस उपायुक्त (विशेष प्रकोष्ठ) जसमीत सिंह ने अभियान की जानकारी देते हुए बताया कि अक्टूबर 2021 के अंतिम सप्ताह में भारत-नेपाल सीमा से मोतिहारी (बिहार) जिले के रक्सौल होते हुए भारत में FICN के प्रसार के संबंध में सूचना प्राप्त हुई थी।

उक्त जानकारी को और विकसित किया गया और पुलिस टीम को इस FICN सिंडिकेट के एक प्रमुख आपूर्तिकर्ता के बारे में दो महीने बाद सूचना मिली, जो दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, बिहार और भारत केअन्य भागों में FICN की आपूर्ति में सक्रिय रूप से शामिल था।। आरोपी आज़म को रिंग रोड के सराय काले खां बस टर्मिनल के पास इंद्रप्रस्थ पार्क के पास पकड़ा गया, जब वह नकली भारतीय नोटों की खेप देने के लिए वहां गया था।

डीसीपी ने कहा, “उसके पास से 500 रुपये मूल्य के 2.98 लाख रुपये के करेंसी नोट बरामद किए गए और बाद में स्पेशल सेल पुलिस स्टेशन में कानून की उपयुक्त धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।”

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close