लॉकडाउन के चलते बार-बार टल रही थी शादी, दुल्हन पहुंच गयी दूल्हे के घर, कहा अब…

कोरोना काल में त्रासदियों के साथ लोगों के जज्बों की भी कहानिया आ रही हैं। 15साल की एक बेटी ने अपने बीमार पिता को साइकिल पर बिठाकर १२ सौ किमी का सफर तय किया। लाकडाउन के चलते बार बार टल रही शादी की तारीखों से आजिज कानपुर देहात की एक दुल्हन ने 80 किमी चलकर व्याह रचाने दूल्हे के घर पहुँच गई। पहले तो घर परिवार के लोग अचंभित हुए, लेकिन गांव वालों की समझदारी से गांव के ही एक मंदिर में दोनों की शादी संपन्न करा दी गई।

ajab gajab marriage

कानपुर देहात के मंगलपुर गांव की रहने वाली 19 साल की गोल्डी की 4 मई को लगी शादी को लॉकडाउन के बढ़ने की वजह से 17 मई कर दिया गया। इसके बाद 17 मई के पहले ही पीएम मोदी ने चौथे लॉकडाउन का ऐलान कर दिया। इस तरह से बार-बार शादी टलने की वजह से दुल्हन ने अनोखा फैसला लिया। गोल्डी के मुताबिक़ 12 घंटे के सफर में अन्न जल नहीं ग्रहण किया।

UP: क्वारंटाइन सेंटर में बन रहे जॉब-कार्ड, रोजगार के लिए बन रही बेबसाइट

दूल्हे वीरेंद्र कुमार राठौर के गांव कन्नौज के बैसपुर पहुंचने पर परिवार के लोग हैरान रह गए। हलकी बाद में सभी ने उसका स्वागत किया। उसके परिवार वालों से बात की गई। दोनों परिवारों की रजामंदी के बाद दूल्हे के गांव के एक मंदिर में विधि-विधान से गोल्डी और वीरेंद्र की शादी करा दी गई। गांव वालों ने भी दोनों की शादी का समर्थन किया।  समारोह के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग को बनाए रखा।

सीएम योगी का ऐलान: देश के किसी कोने में हों यूपी के लोग, सरकार उन्हें लाएगी वापस

उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन की वजह से सारे मांगलिक कार्यक्रम, त्योहारों के आयोजन और शादी-ब्याह टाल दिए गए हैं। शादियों की तय तारीखों को बार-बार टाला जा रहा है। लोगों को लगता है की फलां तारीख के बाद लॉकडाउन ख़त्म हो जाएगा, पर लॉकडाउन है की बढ़ता ही जा रहा है। शादी टालने से पक्षों को तो मुश्किल आती ही है, इसका बड़ा प्रभाव होने वाले दूल्हे और दुल्हन की मनःस्थिति पर पड़ता है। ऐसे में दूल्हा या दुल्हनें अनोखे फैसले ले लेते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *