2700 साल पहले भी करते थे इंसान शौचालय का इस्तेमाल, यहां मिला प्राचीन शौचालय

जेरूसलम। इजरायल के पुरातत्वविदों को 2700 साल पुराना एक दुर्लभ शौचालय मिला है। यह शौचालय जेरूसलम में पाया जाता है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी। इजराइल एंटिक्विटीज अथॉरिटी ने कहा कि चूना पत्थर से बना यह सुंदर ढंग से डिजाइन किया गया शौचालय एक आयताकार कक्ष में मिला था। ऐसा माना जाता है कि उस समय इस पवित्र शहर में निजी स्नानघर विलासिता का प्रतीक था। शौचालय इस तरह से बनाया गया था कि यह बैठने के लिए बेहद आरामदायक था और इसके नीचे जमीन में गहरा एक सेप्टिक टैंक खोदा गया था। खुदाई के निदेशक याकोव बिलिग ने कहा कि प्राचीन समय में निजी शौचालय अत्यंत दुर्लभ थे और अब तक केवल कुछ ही शौचालय पाए गए हैं।

उन्होंने कहा कि उस समय केवल अमीर लोग ही शौचालय बनवा पाते थे। खोजकर्ताओं ने देश के दक्षिणपूर्वी प्रांत सानलिउरफ़ा में कराहेंटेपे में मानव आकृतियों और सिर की नक्काशी की खोज की। 11,000 साल पुरानी नक्काशी को प्राचीन काल के कलाकारों की कलात्मक प्रतिभा का एक महत्वपूर्ण नमूना माना जाता है। खुदाई में कई बड़े टी-आकार के पत्थर, जानवरों के चित्रण और 3 डी मानव मूर्तियां भी मिलीं। इसके अलावा 75 मीटर व्यास और 18 फीट गहरी एक इमारत भी मिली है।

खुदाई 2019 में प्रोफेसर कामी करुल की अध्यक्षता में शुरू हुई थी। इसे नवपाषाण युग से जुड़ी एक महत्वपूर्ण खोज बताया जा रहा है। करुल ने कहा कि उस समय के लोगों में कलात्मक क्षमता का काफी विकास हो चुका था। पुरातत्वविदों को उस युग के पत्थर और स्तंभ भी मिले हैं। उन्होंने कहा कि आसपास के बागों और जलीय पौधों के भी प्रमाण मिले हैं, जिससे पता चलता है कि वहां रहने वाले लोग काफी धनी थे। इससे पहले तुर्की में प्राचीन मूर्तिकला का अद्भुत नमूना मिला था।